वाटर रिजर्वायर का काम तेजी से पूरा होनेवाला है। Image Source : Live Bihar/Alok Kumar

150 में 118 किमी पाइप बिछी- जून 2022 से राजगीर-गया और बोधगया के लोग पीयेंगे गंगाजल

Patna : गंगाजल उद्वाह योजना अगले साल मार्च महीने में पूरी हो जायेगी। गया में जून से गंगा का पानी लोगों के घरों में पीने के लिये पहुंचना शुरू हो जायेगा। इस दो चरण की योजना के तहत गंगा का पानी राजगीर, गया, बोधगया और नवादा के लोगों तक पहुंचना है। इसकी अब तक की प्रगति मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बुधवार को इस योजना की समीक्षा के दौरान सामने आई। मुख्यमंत्री को बताया गया कि 150 किमी पाइपलाइन में से अब तक 118 किमी पाइपलाइन बिछाई जा चुकी है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा- इस योजना को निर्धारित समय में पूरा करने के लिये कार्य तेजी से किया जाये। इधर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को यूपीएससी के टॉपर शुभम कुमार से भी मुलाकात की। शुभम को बेहतर भविष्य की शुभकामनाएं दीं।

इधर गंगाजल उद्वाह योजना जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना के तहत राजगीर, गया, बोधगया और नवादा के सभी लोगों को शुद्ध पेयजल के रूप में गंगा जल उपलब्ध कराया जायेगा। मौके पर जाकर हर चीज का आकलन करें। इस पर जल संसाधन, पीएचईडी, शहरी विकास एवं आवास विभाग आपस में समन्वय बनाकर काम करें। नवादा में जलापूर्ति योजना का काम भी तेजी से शुरू किया जाये।
राजगीर में कई विकास कार्य हुए हैं। वहां जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है। बढ़ती जनसंख्या को ध्यान में रखते हुए जलापूर्ति योजना बनाकर कार्य किया जाए। भूजल स्तर को बनाए रखने के लिए लोगों को इसके लिए प्रेरित करते रहें। सचिव, जल संसाधन विभाग, संजीव हंस ने योजना के बारे में विस्तार से बताया। कहा कि मूल योजना का काम मार्च 2022 तक पूरा कर लिया जायेगा। जून 2022 तक जल वितरण का काम शुरू करने का लक्ष्य है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बिहार के गया, राजगीर और नालंदा जिलों के जल संकट को हल करने के लिये बिहार सरकार से 190 किलोमीटर की पाइपलाइन के जरिये गंगा नदी का पानी मोकामा के हाथीदाह से गया में फाल्गु नदी तक बहेगा। इसका निर्माण अत्याधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर से लैस होगा।
बता दें कि इस योजना के तहत 90 प्रतिशत तक काम पूरा हो चुका है। जनवरी 2022 में इसके परीक्षण की तैयारी की जा रही है और अगर यह सफल रहा तो अगले साल की बारिश से पानी की आपूर्ति शुरू हो जायेगी। जानकारी के अनुसार गंगा जल को पटना से राजगीर तक मार्च 2022 तक पहुंचाने की तैयारी की जा रही है। इसके बाद नवादा से गया तक गंगा जल की आपूर्ति की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *