बिहार के 20 जिलों में बनेंगी 44 सड़कें, 18 पुल भी, जानें कहां बदलेंगे हालात

बिहार में लगातार सड़कों और पुलों का निर्माण कार्य चल रहा है। इसी बीच राज्य सरकार की ओर से 44 ग्रामीण सड़कों और 18 पुलों के निर्माण की सौगात प्रदेश वासियों को दी गई है। इनका निर्माण कार्य भी जल्दी ही शुरू होना है। ग्रामीण कार्य विभाग ने संबंधित कार्यपालकों को निर्देश भी दे दिया है।

नाबार्ड ने दी 80 फीसदी ऋण की स्वीकृति

केंद्र की सड़क योजना-3 के तहत यूपी के इन जिलों में बनेंगी नई सड़कें, सरकार  ने तैयार किया रोडमैप

प्रदेश के 20 जिलों में 44 ग्रामीण सड़कों का निर्माण होना है। इसके लिए नाबार्ड ने पहले ही कुल लागत की 80 फीसदी ऋण की स्वीकृति दे दी थी। वहीं 18 पुलों के लिए आईआरडीएफ ने भी 80 फीसदी ऋण की स्वीकृति दे दी थी। मालूम हो कि इन परियोजनाओं में बिहार सरकार को कुल लागत का 20 फीसदी ही वहन करना है।

जल्द शुरू होगा काम

लाॅक डाउन में भी चकाचक हो रही प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़कें, लगभग 126 करोड़  के 18 नई सड़कें स्वीकृत | नेशन न्यूज़ हिंदी

जानकारी के अनुसार इन परियोजनाओं के निर्माण कार्य की स्वीकृति 2019-20 में ही दे दी गई थी लेकिन इसके बावजूद अभी तक निर्माण कार्य शुरू नहीं होने के कारण इन परियोजनाओं को नॉन-स्टार्टर की लिस्ट में डाल दिया गया है। जिसके बाद अब इस पर ऐक्शन लेते हुए ग्रामीण कार्य विभाग ने कार्य शुरू कर इन परियोजनाओं को स्टार्टर की श्रेणी में डालने का निर्देश दिया है।

20 जिलों में बन रही ग्रामीण सड़क

Ten Thousand Kilometers Of New Roads Will Be Built In Haryana - हरियाणा में  बनेंगी दस हजार किलोमीटर नई सड़कें | Patrika News

प्रदेश के 20 जिलों में इन 44 ग्रामीण सड़कों का निर्माण होना है। इसमे छपरा, पटना, भोजपुर, दरभंगा, बांका, मधुबनी, खगड़िया, भागलपुर, सिवान, अररिया, वैशाली, शेखपूरा, कटिहार, मुजफ्फरपुर, राजगीर, सहरसा, मधेपुरा, शिवहर, सुपौल, बेगुसराय शामिल है।

इन जिलों में बनेगा पुल

ADB approves US $177m loan for road projects in Maharashtra, India

बेगूसराय, दरभंगा, मधुबनी, पूर्णिया, सीतामढ़ी, लखीसराय, मुंगेर जिले में 18 पुल-पुलियों का निर्माण होना है। इन सड़कों और पुलों के बन जाने से ग्रामीण इलाकों की शहरों से कनेक्टिविटी बेहतर होगी और यातायात व्यवस्था भी सुगम होगी।

*Images are used only for representational purposes.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *