1361 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट मंजूर, पटना के बाद अब बिहार में यहां बनेगा एम्स

पटना
बिहार में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं, ऐसे में राज्य और केंद्र सरकार दोनों की तरफ से ही यह प्रयास चल रहा है कि कैसे सालों से अटकी परियोजनाओं को फिर से चालू किया जाये। इसी प्रयास का एक हिस्सा साबित हुआ है दरभंगा में प्रायोजित एम्स। पिछले तीन सालों से संशय का विषय बना हुआ दरभंगा एम्स के बनने का रास्ता अब साफ हो गया है। इसके लिए केंद्र सरकार द्वारा 1361 करोड़ की धनराशि को स्वीकृत कर दिया गया है।

आपको बता दें कि केंद्रीय वित्त सचिव की अध्यक्षता में हुई व्यय वित्त समिति की बैठक में स्वास्थ्य मंत्रालय के प्राइमरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने मुहर लगाते हुए अनुमानित राशि की स्वीकृति प्रदान कर दी है। इसके तहत दरभंगा एम्स में कुल 750 बेड की व्यवस्था होगी। जानकारी के मुताबिक बजट स्वीकृत होने के बाद अब एम्स के निर्माण का कार्य तेज़ी से आगे बढ़ेगा। विभागीय स्तर पर एवं अन्य मंत्रालयों से संबंधित कार्यों को तेजी से मूर्त रूप दिया जा रहा है।

प्रदेश में स्वास्थ्य संबन्धित सुविधाओं की कमी हमेशा से रही है। जिसके बाद अब दरभंगा में एम्स स्वीकृत होने से जनता को उच्च स्तर की चिकित्सकीय सुविधाओं का लाभ मिल सकेगा। आपको बता दें कि अभी तक पूरे प्रदेश में केवल एक मात्र एम्स पटना में है, जहां पूरे राज्य से मरीज अपने उपचार के लिए आते हैं। दरभंगा एम्स बिहार का दूसरा एम्स होगा। इससे उत्तरी बिहार के लोगों को खासा लाभ मिलेगा।

अब देखना यह है कि इसका निर्माण कार्य कब तक पूरा किया जा सकेगा। हालांकि केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे का दावा है कि दरभंगा एम्स को रेकॉर्ड समय में बना कर जनता को सुपुर्द किया जाएगा। उन्होंने कहा है कि जल्द ही बिहार की जनता को इसका लाभ मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *