Image Source : Live Bihar/local arrangement

घोर नक्सल इलाके की बेटी अमूल्या की चमक चहुंओर फैली- बन गई एयर इंडिया की एयर होस्टेस

Patna : दुनिया में ऐसा केई लक्ष्य नहीं जो हासिल नहीं किया जा सकता हो। बस नीयत और कर्म उस दिशा में होने चाहिये। मंजिल जरूर मिलती है। आसपास के लोग, समाज भी फिर आपको आगे बढ़ने में मदद करता है। आपको प्रेरित करता है। अमूल्या ने भी यह साबित कर दिखाया है। एक ऐसी नजीर पेश की है, जिसका दूर दूर तक कोई दूसरा उदाहरण नही मिलता। पूरे इलाके में अभी सिर्फ अमूल्या के ही चर्चे हैं। उसने न सिर्फ लातेहार जिले का बल्कि पूरे झारखंड के आदिवासी जनजातियों का मान बढ़ाया है। बेटी की वजह से पूरा समाज सीना चौड़ा करके चल रहा है। अब अमूल्या के पास लोग बधाई देने आ रहे हैं। स्थानीय मीडिया के लोग उसका इंटरव्यू ले रहे हैं। वो बिंदास सबके सवालों का जवाब दे रही है। वो बता रही है कि आखिर उसने कैसे और किन मजबूरियों में यह मंजिल हासिल की है।

अमूल्या अपने पूरे परिवार के साथ।

यह कहानी है झारखंड के लातेहार ज़िले के महुआडांड प्रखंड के दुरूप पंचायत की बेटी अमूल्या की। घर में भले फांकाकशी रही हो लेकिन उसको पढ़ाई में कभी कोई कमी नहीं होने दी गई। वो पूरे लगन से पढ़ाई करती रही। अमूल्या अपने पैरेंट‍्स की दूसरी बेटी है और अपने माता पिता का सपना पूरा कर वो बेहद खुश है।
अमूल्या ने साबित कर दिया कि प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती। अति नक्सली क्षेत्र लुरूगुमी की अमूल्य एक्का का चयन एयर होस्टेस के लिये किया गया है। उसे अब प्रशिक्षण के लिये जाना है। अमूल्या संत जोसेफ स्कूल में माली का काम करने अनुमोल एक्का की दूसरी बेटी है।
अमूल्या की शुरूआती पढाई गाँव के बगल में संचालित एक स्कूल संत मिखाइल में हुई है। वही इटंर की पढाई संत जोसेफ महुआडांड स्कूल में हुई । पिता अनुमोल एक्का ने बताया कि मेरी बेटी अमूल्या एक्का का अगस्त 2021 कलकत्ता में एयर होस्टेस में चयन कर लिया गया है। उसे अब प्रशिक्षण के लिये जाना है ।
पिता ने आगे बताया कि कड़ी मेहनत कर माली का काम कर बेटी को पढ़ाई लिखाई कराई है। उन्होंने कहा कि फादर जोन खाखा, फादर विनोद केरकेट्टा ने बच्ची को भविष्य उज्ज्वल बनाने में मदद करते हुये एयर इंडिया के नौकरी के लिये फॉर्म भरने की मदद की थी।

बेटी के एयर होस्टेस में चयन होने से पिता के साथ माता अनिमा कुजूर काफी खुश है । उन्होंने बेटी का चयन होने पर पादरियों को धन्यवाद दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *