बिहार: कोरोना में शादियों को लेकर फिर बदल गए नियम, यहां जान लीजिए

पटना : ठंड बढ़ने के साथ ही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में भी वृद्धि होने के कारण 25 नवंबर को केंद्र सरकार की ओर से संक्रमण को रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए गए थे। जिसके बाद राज्य सरकार ने केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों को 26 नवंबर को प्रदेश भर में लागू कर दिया था। नए दिशा-निर्देशों में शादी-विवाह और श्राद्ध कार्यक्रम को लेकर भी गाइड लाइन जारी की गई थी। जिसमे शादी-विवाह में अधिकतम 100 और श्राद्ध कार्यक्रम में अधिकतम 25 लोगों के शामिल होने की अनुमति दी गई थी। लेकिन इसमे रिआयत देते हुए अब राज्य सरकार ने शादी-विवाह के कार्यक्रम में अधिकतम लोगों की संख्या को बढ़ा दिया है।

गृह विभाग ने जारी किया नया आदेश

bihar nitish kumar government issued new corona guideline for wedding  ceremonies hotel halwai band Baja wale upset trahimam sandesh send to cm -  शादी-विवाह समारोह में नई कोरोना गाइडलाइन से किचकिच, होटल

मांगलिक कार्यक्रमों के लिए गृह विभाग ने अब अधिकतम मेहमानों की संख्या को बढ़ा कर 200 कर दिया है। वहीं धार्मिक और अन्य कार्यक्रमों में भी 200 लोगों की अधिकतम सीमा की अनुमति दी गई है। इसके लिए बिहार सरकार में गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने जानकारी देते हुए बताया कि यह आदेश 31 दिसंबर तक प्रभावी रहेगा।

आदेश में दूसरी बार किया गया संशोधन

Coronavirus sankat ke bich bihar sarkar ka bada faisla shadi samaroh me  shamil ho sakenge 200 log : कोरोना संकट के बीच बिहार सरकार का बड़ा फैसला  शादी समारोह में अब शामिल

26 नवंबर को जारी किए गए दिशा निर्देशों में शादी-विवाह में 100 और श्राद्ध कार्यक्रमों में 25 लोगों की सीमा निर्धारित की गई थी। जिसके बाद 29 नवंबर को इसमे संशोधन करते हुए शादी-विवाह में अधिकतम मेहमानों की संख्या को बढ़ा कर 150 कर दिया था। वहीं कार्यक्रम में बैंड-बाजा बजाने की भी अनुमति दे दी गई थी। अब एक बार फिर से इसमे संशोधन करते हुए शादी-विवाह और धार्मिक कार्यक्रमों के साथ ही अन्य आयोजनों में भी शामिल होने वाले अधिकतम लोगों की संख्या को बढ़ा कर 200 कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *