Image Source : GC

G-20 सम्मेलन में राष्ट्राध्यक्षों को भारत की तरफ से उपहार में दी जायेगी बिहार की लहठी

Patna : मुजफ्फरपुर की पहचान लहठी भारत द्वारा जी-20 शिखर सम्मेलन में शामिल राष्ट्रों के प्रमुखों को बतौर विशेष उपहार भेंट की जाएगी। जी-20 शिखर सम्मेलन का आयोजन 15 नवंबर से इंडोनेशिया के बाली में होना है। इसमें भारत को अगले साल होने वाले सम्मेलन की अध्यक्षता करने की जिम्मेदारी सौंपी जानी है।
इस सम्मेलन को यादगार बनाने के लिए भारत के राष्ट्राध्यक्षों को विशेष उपहार के रूप में लहठी सहित हस्तशिल्प से संबंधित अन्य उत्पाद भेंट किए जाएंगे। इसको लेकर उद्योग विभाग ने तैयारी तेज कर दी है।

केंद्र सरकार की एक जिला एक उत्पाद योजना में मुजफ्फरपुर की लहठी शामिल है। विदेश मंत्रालय के स्तर से लाहटी को जी-20 शिखर सम्मेलन में ले जाया जाएगा।
लहठी को वैश्विक पहचान दिलाने के प्रयास से लहठी व्यवसायी व शिल्पकार खुश हैं। एमएसएमई मंत्रालय ने इसके निर्यात के लिए विस्तृत कार्य योजना तैयार की है। इस पहल से लहठी उद्योग और व्यवसाय से जुड़े जिले के 50 हजार लोगों की उम्मीदें बंध गई हैं।

आत्मनिर्भर भारत, प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण एवं प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना आदि के माध्यम से लहठी के क्षेत्र में स्वरोजगार एवं व्यवसाय को अधिक से अधिक बढ़ावा दिया जायेगा। महिला उद्यमियों एवं व्यवसायियों पर अधिक बल दिया जायेगा। अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय बाजार में प्रतिस्पर्धा करने के लिए लहठी की गुणवत्ता और डिजाइन पर बेहतर काम किया जाएगा।

इस्लामपुर के लहठी व्यवसायी मो. मेराज ने बताया कि शहर का इस्लामपुर लहठी का प्रसिद्ध बाजार है। यहां झारखंड से लाख का आयात किया जाता है। रामबाग, पंखटोली, मनियारी आदि दर्जनों गांवों में घर-घर लाठी तैयार की जाती है। इससे पांच सौ से ज्यादा छोटे-बड़े कारोबारी जुड़े हुए हैं। मुजफ्फरपुर में हर साल 50 करोड़ से ज्यादा का कारोबार होता है।

मुजफ्फरपुर में बनी खूबसूरत एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय और क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की पत्नी अंजलि तेंदुलकर ने भी हाथ आजमाया है। अभिषेक बच्चन से उनकी शादी के दौरान, उन्हें उपहार के रूप में लहठी भेंट की गई थी। मुजफ्फरपुर की लहठी ने देश के साथ-साथ विदेशों में भी दस्तक दे दी है। शादियों और त्योहारों में लाठी को शगुन के रूप में दिया जाता है।

जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक डीके सिंह ने बताया कि जी-20 सम्मेलन में लाठी को भेजने के लिए विभाग की ओर से निर्देश जारी किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *