राष्ट्र को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। Image Source : tweeted by @ANI

बनारस से पीएम मोदी, गांधीनगर से अमित शाह लड़ेंगे लोकसभा का चुनाव, बीजेपी ने 195 लोगों को दिया टिकट, फर्स्ट लिस्ट जारी

भाजपा ने लोकसभा चुनाव के लिए पहली सूची जारी की, प्रधानमंत्री वाराणसी से लड़ेंगेदिल्ली में चार नए चेहरों पर दांव, वीआईपी उम्मीदवारों पर नजर

भाजपा ने लोकसभा चुनाव के लिए 195 उम्मीदवारों की पहली सूची शनिवार को जारी कर दी। इस सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वाराणसी, गृह मंत्री अमित शाह को गांधीनगर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को लखनऊ से प्रत्याशी बनाया गया है। सबसे बड़ा बदलाव दिल्ली में हुआ, जहां पार्टी ने चार नए चेहरों पर दांव लगाया है। यहां की दो सीटों के लिए प्रत्याशी की घोषणा होना बाकी है।

दिल्ली में बड़े बदलाव भाजपा ने दिल्ली में बड़े बदलाव किए हैं। पार्टी ने नई दिल्ली से केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी की जगह पूर्व केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज को, दक्षिणी दिल्ली से रमेश बिधूड़ी की जगह रामवीर सिंह बिधूड़ी को, चांदनी चौक से पूर्व केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन की जगह प्रवीण खंडेलवाल को, पश्चिमी दिल्ली से प्रवेश वर्मा की जगह कमलजीत सेहरावत को उम्मीदवार बनाया है। दिल्ली इकाई के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी एक बार फिर उत्तर पूर्व दिल्ली से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे।

उत्तर प्रदेश में वही चेहरे भाजपा ने उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से 51 सीटों पर ज्यादातर अपने सांसदों और पिछले उम्मीदवारों पर भरोसा जताया है। केवल चार सीटों पर नए चेहरे हैं। इनमें श्रावस्ती से विधान परिषद सदस्य साकेत मिश्र, नगीना से ओम कुमार, अंबेडकरनगर से रितेश पांडेय और जौनपुर से कृपाशंकर सिंह शामिल हैं। वरुण और मेनका गांधी की सीट पर अभी प्रत्याशियों की घोषणा नहीं की गई है।

इसी तरह उत्तराखंड में रमेश पोखरियाल निशंक की सीट पर भी नाम की घोषणा नहीं हुई है। बिहार की किसी सीट पर उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की गई है। संभवत इसकी वजह सीट बंटवारे पर अभी फैसला नहीं होना है।

साध्वी प्रज्ञा का टिकट कटा भाजपा ने भोपाल से साध्वी प्रज्ञा पर इस बार भरोसा नहीं जताया। मुमकिन है कि बिगड़े बोलों की वजह से उन्हें मौका नहीं मिला।

तीन पूर्व मुख्यमंत्री उतारे भाजपा ने तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों शिवराज सिंह चौहान को विदिशा, सर्वानंद सोनोवाल को असम की डिब्रूगढ़ सीट से और बिप्लब देब को त्रिपुरा पश्चिम से टिकट दिया है। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला एक बार फिर कोटा से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे।

एक सप्ताह में ऐलान संभव पार्टी से जुड़े सूत्रों का कहना है कि आगामी 10 मार्च तक पार्टी 50 फीसदी सीटों पर नामों की घोषणा कर सकती है। पार्टी ने वर्ष2019 के चुनाव में भी ऐसा ही किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *