ॐ ऐं सरस्वत्यै ऐं नमः का जाप करने से मन लगाकर पढ़ने लगेगा आपका बच्चा, अच्छा होगा रिजल्ट

NEW DELHI-बसंत पंचमी पर करें 3 अचूक उपाय, बच्चों का पढ़ाई में लगेगा मन, एकाग्रता में भी होगी वृद्धि : हिंदू धर्म में प्रत्येक तिथि को विशेष महत्व प्राप्त है. हिंदी पंचांग के अनुसार माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को बसंत पंचमी के रूप में मनाया जाता है. मां सरस्वती को बुद्धि, विद्या, ज्ञान, संगीत और कला की देवी माना जाता है. इस बार बसंत पंचमी 14 फरवरी 2024, दिन बुधवार को मनाई जा रही है. इस तिथि की शुरुआत 13 फरवरी 2024, मंगलवार को दोपहर 12:09 बजे हो जाएगी. सरस्वती पूजा के लिए शुभ मुहूर्त 14 फरवरी को सुबह 7:01 बजे से लेकर दोपहर 12:35 तक रहेगा. बसंत पंचमी पर बच्चों की एकाग्रता बढ़ाने के लिए कुछ उपाय बता रहे हैं

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बसंत पंचमी के दिन बच्चों से देवी सरस्वती की पूजा कराना बहुत शुभ माना गया है. इस दिन आप बच्चों के हाथ से मां सरस्वती को पीले फूल, माला और केसर आदि अर्पित कराएं. मां सरस्वती पूजा की पूजा के बाद उन्हें पीले फल या पीले रंग की मिठाई का भोग लगाएं. ऐसा करने से है देवी सरस्वती बच्चों को बौद्धिक विकास का आशीर्वाद प्रदान करती हैं.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जो विद्यार्थी बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को सफेद चंदन अर्पित करता है, और उनके मंत्र ‘ॐ ऐं सरस्वत्यै ऐं नमः’ का 108 बार जाप करता है, उसे अपने करियर में तरक्की मिलती है और सफलता के अवसर प्राप्त होते हैं.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बसंत पंचमी के दिन अगर आप पढ़ाई से जुड़ी सामग्री जैसे पेन किताब आदि का दान अपने बच्चों के हाथ से करवाते हैं, तो मां सरस्वती का आशीर्वाद प्राप्त होता है और उनकी एकाग्रता बढ़ती है. इस उपाय से बच्चों में उत्पन्न वाणी दोष भी खत्म हो सकता है. इसके अलावा देवी सरस्वती के चरणों में पढ़ाई से संबंधित सामग्री अर्पित कराना भी शुभ माना गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *