पारस हॉस्पिटल में जिस कोरोना पीड़ित महिला के साथ सामूहिक रेप हुआ था वो चल बसीं, बेटी ने की FIR

पटना : राजधानी पटना के पारस हॉस्पिटल में जिस महिला के साथ हॉस्पिटल के दो कर्मचारियों और बाहर एक व्यक्ति ने सामूहिक रेप किया था आज सुबह वो महिला चल बसीं। महिला पिछले कई दिनों से कोरोना से पीड़ित थीं और इसी बीमारी के इलाज के सलसिले में उन्हें पारस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। हॉस्पिटल में सुबह उनकी गुजर जाने की सूचना के बाद उनकी बेटी स्थानीय थाने में मामले की एफआईआर कराने पहुंची लेकिन अब तक उसके एफआईआर पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है। सोमवार को ही पीड़ित महिला की बेटी ने आरोप लगाया था कि आईसीयू में भर्ती उसकी मां के साथ हॉस्पिटल के दो स्टाफ और बाहर के एक कर्मचारी ने गलत काम किया है। वो सोमवार शाम से ही मामले को देखने ी फरियाद करती रही, लेकिन हॉस्पिटल प्रबंधन सारे मामले पर पर्दा डालने की कोशिशाों में जुट गया।

https://www.facebook.com/livebihar.live/videos/1179090195837168

https://www.facebook.com/101547250304327/videos/811948306377026
मंगलवार की सुबह जब महिला की बेटी मीडिया के सामने आई तो डरी हुई थी। उसने कैमरे पर कहा कि हॉस्पटल के डॉक्टर्स ने कहा है कि तुम्हारी मां बेसुध थी, उसी बेसुध की हालत में उसने कहा था। डॉक्टर्स ने आश्वस्त किया कि एकबार मां को ठीक हो जाने दो फिर इस मामले पर बात करना। बेटी ने मीडिया को कहा कि मेरी मां के ठीक होने का इंतजार है। आखिर पीड़ित तो वही है। उसके ठीक होते ही मैं उसको सबके सामने लाऊंगी और जिस किसी ने भी उसके साथ गलत किया है उसे सजा दिलाकर रहूंगी।
मगर बुधवार को उसकी मां कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं रही। उनका देहान्त हो गया। बेचारी बेटी उनका शव लेकर काफी देर तक बांसघाट पर अकेले ही रोती रही, मां को जगाती रही। बाद में कुछ परिजन पहुंचे। इस दौरान बेटी स्थानीय थाने में पहुंची और एफआईआर के लिये अपनी शिकायत दी। इसमें उसने विस्तार से ब्यौरा दिया। 15 मई को महिला को पारस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। उसके बाद से उसके साथ क्या-क्या हुआ और उसकी मां ने क्या बताया। राज्य महिला आयोग ने इस मामले की त्वरित जांच कराने और दोषियों के खिलाफ सख्ती से पेश आने की हिदायत दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *