बिहार: ड्राइविंग स्कूल खोलने पर सरकार देगी 20 लाख रुपये की मदद, यहां जानें पूरी योजना

पटना

स्थानीय स्तर पर रोजगार सृजन के उपाय हों तो भला कोई क्यों महानगर का रुख करे। कोरोना से उपजे संकट ने स्थानीय रोजगारों के महत्व को और भी स्पष्ट तरीके से बताया है। कोरोना ल़ॉकडाउन के दौरान जब अर्थव्यवस्था चरमराई तो सबसे पहला झटका बिहार के कामकाजी वर्ग को लगा। तमाम कष्ट झेलकर घर लौटना पड़ा। ऐसे में अब बहुत सारे लोग वापस महानगरों की ओर नहीं जाना चाहते। य़हीं कुछ करना चाहते हैं। तो चलिए इसी क्रम में हम आपको स्वरोजगार के एक ऐसे उपाय के बारे में बताते हैं जो आपके काम का साबित हो सकता है। वह उपाय है ड्राइविंग स्कूल खोलने का।

बिहार सरकार की खास योजना

लगातार बढ़ते सड़क हादसों पर लगाम लगाने और इसी बहाने स्वरोजगार विकसित करने के उद्देश्य से बिहार सरकार एक खास योजना लेकर आई है। इस योजना के तहत परिवहन विभाग ने प्राइवेट ड्राइविंग स्कूलों को खोलने का निर्ण लिया है। कोई भी व्यक्ति या संस्थान इस निजी ड्राइविंग स्कूल को खोल सकता है। ऐसा करने वाले को राज्य सरकार 20 लाख रुपये की आर्थिक मदद देगी।

61 ड्राइविंग स्कूल खोले जाने की योजना

बिहार सरकार के परिवहन विभाग ने इस योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी है। परिवहन विभाग के सचिव संजय अग्रवाल बताते हैं कि ड्राइविंग प्रशिक्षण प्रोत्साहन योजना शुरू करने की तैयारी है। इसके तहत कुल 61 ड्राइविंग स्कूल खोले जाएंगे। उनके मुताबिक कोई भी चाहे तो अपने इलाके में ड्राइविंग स्कूल खोल सकता है। इसके लिए जिलों को तीन श्रेणी में बांटा गया है। पहली ए श्रेणी है, जिसमें बड़े जिले आएंगे और यहां 3 ड्राइविंग स्कूल खोले जाएंगे।

दूसरी श्रेणी में खुलेंगे इतने स्कूल

परिवहन सचिव के मुताबिक दूसरी बी श्रेणी में जिसमें 2 ट्रेनिंग स्कूल खोले जाएंगे। तीसरी यानी सी श्रेणी के जिलों में एक ड्राइविंग स्कूल खोला जाएगा। कुल मिलाकर 61 ड्राइविंग स्कूल खुलेंगे। विभाग के मुताबिक पटना, भागलपुर, पूर्णिया. गया, मुजफ्फरपुर में 3-3, मोतिहारी, दरभंगा, वैशाली, सीवान, समस्तीपुर, रोहतास, भोजपुर, बेतिया, बेगूसराय, मधुबनी, गोपालगंज. औरंगाबाद. नालंदा में 2-2 ड्राइविंग स्कूल खोले जाएंगे। इसी तरह अरररिया, अरवल, बांका, कटिहार, किशनगंज, खग़ड़िया समेत अन्य जिलों में एक स्कूल खोला जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *