विधायक गोपाल मंडल राजधानी एक्सप्रेस में अपनी लंगटई दिखाते हुये। Image Source : local arrangement

लंगटा JDU MLA पर FIR की तहरीर- दारू पीकर निकले थे पटना से, चेन लूटा, मुंह पर कुल्ला किया

New Delhi : राजधानी एक्सप्रेस में सैंडो गंजी और अंडरवियर पहनकर लंगटई करनेवाले जनता दल यूनाइटेड के विधायक गोपाल मंडल के खिलाफ दिल्ली में लूट, जातिसूचक शब्दों का प्रयोग कर अपमानित करने और मारपीट करने की प्राथमिकी दर्ज की गई है। दिल्ली जीआरपी में उनके सहयात्री प्रहलाद पासवान ने प्राथमिकी दर्ज करने की तहरीर दी है। उन्होंने शिकायत में लिखा है- जब मैंने विधायक से कहा कि वह अंडरवियर पहनकर ट्रेन में नहीं चल सकते। इसमें कई महिलाएं भी सफर कर रही हैं। तो इस पर उसने और उसके आदमियों ने मुझे पीटा। मेरी 20 ग्राम सोने की चेन और सोने की अंगूठी छीन ली। जातिसूचक शब्द बोलकर गालियां भी दी। प्रहलाद पासवान ने यह भी आरोप लगाया कि विधायक और उनके साथ गये सभी लोग शराब के नशे में थे। उसे रास्ते भर प्रताड़ित किया गया। उसके मुंह पर कुल्ला करके गंदा पानी पिलाया गया।

बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड के लंगटे विधायक गोपाल मंडल ने कल नई दिल्ली जा रही राजधानी एक्सप्रेस में खूब लंगटई की। यात्रियों से गाली गलौज की। खूब हंगामा किया। यात्रियों की गलती बस इतनी थी कि अंडरवियर में घूम रहे विधायक को कपड़े पहनने के लिये टोक दिया। जैसा कि पत्रकार संतोष पांडेय ने विधायक गोपाल मंडल की फोटो पोस्ट कर अपने फेसबुक पर लिखा है- ये हैं जेडीयू विधायक गोपाल मंडल। मुख्यमंत्री के चहेते हैं। इनके अंडरवियर में तेजस ट्रेन में घूमने पर सहयात्री ने विरोध किया तो आरोप है कि विधायक गाली-गलौज और मारपीट करने पर उतर आये ! सवाल है कि विधायक जी जो बिहार के हैं, देशवासियों को क्या संदेश देना चाहते हैं? लंगटपन के हद को पार करने में इन्होंने तनिक भी चूक नहीं की। बिहार के संस्कार को ताक पर रख दिया। एक राजनेता अपने राज्य के लिए अच्छे संस्कार का निर्माण करता है पर गोपाल मंडल जी ने अपना यह चरित्र परोस बिहार को शर्मसार किया है। मुख्यमंत्री जी को ऐसे राजनेताओं के लिये बिहार में संस्कार पाठशाला खोलने की जरूरत है।
वह सिर्फ गंजी और अंडरवियर में नजर आ रहे थे। इसके बाद कोच में मौजूद दूसरे यात्री ने कड़ी आपत्ति जताई। इस पर विधायक गोपाल मंडल ने आपत्ति करने वाले यात्री को गालियां दीं। चलती ट्रेन में कोच के अंदर काफी हंगामा हुआ। सूचना पर ट्रेन को एस्कॉर्ट कर रही आरपीएफ की टीम मौके पर पहुंच गई। विधायक व यात्री को समझाने का प्रयास किया। यह घटना तब हुई जब ट्रेन दिलदारनगर स्टेशन से गुजर चुकी थी। आरपीएफ ने इसकी पुष्टि की है।
तेजस राजधानी एक्सप्रेस के ए-1 कोच की सीट नंबर 13, 14 और 15 पर विधायक गोपाल मंडल और उनके साथी सफर कर रहे थे। वहीं, जहानाबाद निवासी प्रहलाद पासवान अपने परिवार के साथ उसी कोच में सीट संख्या 22-23 पर सवार थे। दोनों के टिकट पटना जंक्शन से नई दिल्ली के थे। विधायक गोपाल मंडल कोच में कपड़े खोलकर गंजी और अंडरवियर पहनकर शौचालय गये। जब वह लौटा तो प्रह्लाद ने विरोध किया। महिला यात्रियों का हवाला दिया। लेकिन, इस बात को समझने के बजाय विधायक हंगामा करने लगे। इसके बाद ट्रेन में मौजूद आरपीएफ की टीम ने रेलवे पुलिस को पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन की सूचना दी।

शुक्रवार दोपहर मामला गरमा जाने पर विधायक के बचाव में भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी पहुंचे। बचाव करते हुये उन्होंने कहा- कभी-कभी आदमी लेट जाता है, जब वह सो रहा होता है, तो वह अंडरवियर-गंजी में निकल जाता है। हालांकि, सार्वजनिक स्थान पर इन सभी सीमाओं का ध्यान रखा जाना चाहिये। वो भी तब जब आप विधायक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *