गिरिराज सिंह और राहुल गाधी की फाइल फोटो। Image Source : mathrubhumi.com

राहुल गांधी को गिरिराज सिंह का इतालवी में जवाब- ब्रेनलेस, अगर दिमाग लगाते तो परेशानी नहीं होती

New Delhi : फायरब्रांड भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को ‘ब्रेनलेस’ कहा है। कथित कोविड -19 कुप्रबंधन को लेकर सरकार पर राहुल की टिप्पणी का जवाब देते हुये गिरिराज ने राहुल की ‘इतालवी’ जड़ों को लक्षित करते हुये ट‍्विटर पर इतालवी में एक पोस्ट शेयर किया। सिंह ने इतालवी में ट्वीट किया- राहुल गांधी जी शायद यह भूल जाते हैं कि यह जानकारी राज्य सरकारों द्वारा संकलित की जाती है और केंद्र को भेजी जाती है।

 

अगर उन्होंने महाराष्ट्र, राजस्थान, पंजाब और छत्तीसगढ़ की सरकार से पूछा होता, तो उन्हें इतनी दिमाग़ी परेशानी नहीं होती। सिंह ‘दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई मौत नहीं’ की टिप्पणी पर राहुल गांधी की सरकार की आलोचना का जवाब दे रहे थे। सरकार पर कटाक्ष करते हुये राहुल गांधी ने हिंदी में ट्वीट किया – सिर्फ़ ऑक्सीजन की ही कमी नहीं थी। संवेदनशीलता व सत्य की भारी कमी- तब भी थी, आज भी है।
केंद्र ने मंगलवार को राज्यसभा को सूचित किया कि दूसरे कोविड -19 लहर के दौरान राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में विशेषरूप से ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई मौत नहीं हुई। स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारती प्रवीण पवार ने कहा कि मौतों की रिपोर्टिंग के लिये केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किये गये हैं। तदनुसार, सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश नियमित आधार पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को मामलों और मौतों की रिपोर्ट करते हैं। पवार ने एक लिखित जवाब में कहा कि रिपोर्ट राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से आती है और उन रिपोर्टों में ऑक्सीजन की कमी से किसी की मौत की रिपोर्ट नहीं है।
मंत्री की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुये विपक्ष ने सरकार पर ‘गलत सूचना’ देकर संसद को गुमराह करने का आरोप लगाया। कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल ने कहा कि वह मंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार नोटिस लाएंगे क्योंकि उन्होंने सदन को ‘गुमराह’ किया है। उनकी टिप्पणी के बाद सरकार ने मंगलवार को राज्यसभा को सूचित किया कि ऑक्सीजन की कमी के कारण कोई भी मौत विशेष रूप से राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों द्वारा दूसरी लहर के दौरान रिपोर्ट नहीं की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *