बाहबुली नेता शहाबुद्दीन की पत्नी का माइंड गेम, चुनाव भी नहीं लडेंगी और जलवा भी कायम रहेगा

पटना

बिहार में राजनीतिक सरगर्मियां काफी तेज हो गई हैं। एक तरफ नीतीश कुमार की आज से वर्चुअल रैलियां शुरू होगीं और दूसरी तरफ तेजस्वी की रैलियां कल से शुरू होंगी। इस बीच बिहार में टिकट बंटवारे को लेकर रोजाना बड़ी बड़ी खबरें सामने आ रही हैं। ऐसी ही एक खबर बाहुबली नेता शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब को लेकर आ रही है। राजद ने हिना शहाब को सीवान जिले की रघुनाथपुर सीट से चुनाव लड़ने का ऑफर दिया था। असल में शहाबुद्दीन जबसे चुनाव लड़ने से अयोग्य ठहराया गया है तबसे हिना शहाब उनकी राजनीतिक विरासत संभालने की कोशिश कर रही हैं। ऐसे में राजद ने सशक्त उम्मीदवारी को देखते हुए हिना शहाब को टिकट की पेशकश की।

हिना ने किया इंकार, पर खेला दूसरा खेल

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हिना शहाब ने रघुनाथपुर से विधानसभा चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया है। हालांकि उन्होंने ये सीट एक बार फिर अपने करीबी हरिशंकर यादव को दिलवा दी है। आपको बता दें कि पिछली बार भी हिना शहाब ने इस सीट पर हरिशंकर यादव को उतरवाया था। शहाबुद्दीन और हिना शहाब के सपोर्ट से हरिशंकर यादव इस सीट पर जीत हासिल करने में कामयाब भी रहे थे।

हिना शहाब की नजर संसद पर

वैसे ऐसा नहीं है कि हिना शहाब की राजनीति में दिलचस्पी नहीं है। असल में उनकी निगाह देश की संसद पर है। इसके लिए वो लगातार तीन बार यानी 2009, 2014 और 2019 में लोकसभा चुनाव लड़ चुकी हैं। लेकिन तीनों बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा है। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि 2024 में भी हिना शहाब एक बार फिर लोकसभा की तैयारियों में जुट रही हैं। एक वजह यह भी है कि वो विधानसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहती हैं।

4 बार सांसद रहे हैं शहाबुद्दीन

आपको बता दें कि शहाबुद्दीन 1990 में लालू के साथ आए थे। लालू के करीबी माने जाने वाले शहाबुद्दीन 4 बार सांसद और दो बार विधायक रह चुके हैं। लेकिन 2009 में कोर्ट ने उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगा दी थी। इसके बाद हिना शहाब की राजनीति में एंट्री हुई। शहाबुद्दीन फिलहाल दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद हैं लेकिन उनका रसूस अभी भी कायम है। यही वजह है कि सिवान की सीटों पर शहाबुद्दीन का असर किसी न किसी तरह पड़ता ही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *