Image Source : tweeted by @yadavtejashwi

तेजस्वी के 15 स्लोगन से महंगाई धराशाई : लग जाओगे लोन की कतार में, 2 दिन तो डलवाओ पेट्रोल कार में

Patna : बिहार में हर जिले में राजद के कार्यकर्ताओं ने महंगाई के विरोध में सड़कों पर प्रदर्शन किया। राज्य सरकार और मोदी सरकार के खिलाफ में नारे लगाते रहे। इस बीच नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने महंगाई के खिलाफ सरकार पर ट‍्विटर से हल्ला बोला। एक से एक नारे पोस्ट किये। जिलों में हुये प्रदर्शनों की तस्वीरें पोस्ट की। कुल 15 स्लोगन पोस्ट किये। अधिकांश बेहतर और मारक। जमीन पर भले जो माहौल हो, लेकिन ट‍्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर तो विपक्षियों और महंगाई को तेजस्वी यादव ने धराशाई कर ही दिया। नेता प्रतिपक्ष ने ये जता दिया है कि विधानसभा सत्र में इस बार महंगाई, पेट्रोल डीजल की बेतहाशा बढ़ती कीमतों पर काफी हंगामा होनेवाला है। इसके अलावा लोक कल्याण के मुद‍्दों पर भी राजद सरकार को चौतरफा घेरने की तैयारी में है। वैसे भी नीतीश सरकार में वो गोलबंदी नहीं दिख रही है जो दिखनी चाहिये। सभी मोर्चे पर बचाव की कमान जदयू ने ही संभाल रखी है।

 

तेजस्वी ने कई नारे ट‍्वीट किये हैं। इसको नंबरिंग के साथ पेश कर रहे हैं। 1. पूछ रही है जनता, क्यों इतनी महंगाई है? अच्छे दिन का वादा करके चुप क्यों हरजाई है? 2. चारों ओर मचा है महंगाई का हाहाकार, धिक्कार धिक्कार धिक्कार ऐ सरकार। 3. महंगाई और भाजपाई, दोनों जनता को सता रहे हैं। 4. बिजली महंगी, राशन महंगा और महंगा तेल, नीतीश भाजपा की सरकार है या जीरो अंडा गोल। 5. ये सरकार का जनता के साथ धोखा है, देश को महंगाई की आग में झोंका है। 6. बिहार झेल रहा कुशासन नीतीश कुमार का, देश राज्य झेल रहा दर्द महंगाई की मार का। 7. विनाश नीति का प्रदर्शन चल रहा है, देश महंगाई की आग में जल रहा है। 8. तेरी महंगाई ने गरीब का गला दबा रखा है, ऐ सरकार तू सरकार के नाम पर धब्बा है। 9. अपना सरकारी षड्यंत्र जनता पर मत चलाओ, सुनो सरकार, महंगाई घटाओ या खुद हट जाओ। 10. सस्ता शासन-महंगा राशन, खोखली नीति-खोखला भाषण। 11. इस जनविरोधी सरकार ने हर घर में महंगाई नाम का राक्षस अपना एजेंट बना के भेज दिया है जिससे हर घर परिवार लड़ रहा है। 12. महंगाई जनता को रुलाने में लगी है, महंगाई घरों को जलाने में लगी है, एनडीए सरकार कुशासन के कीचड़ में, अपना कमल खिलाने में लगी है। 13. ऐसे दीये जलवाये कि हर घर महंगाई का अँधेरा कर दिया, ऐसे नसीब वाले आये कि पेट्रोल ने शतक पार कर दिया। 14. लग जाओगे लोन की कतार में, दो दिन तो डलवाइये पेट्रोल कार में। 15. सत्ता से दूर होंगे नीतीश भाजपाई, तभी तो दूर होगी बेरोजगारी महंगाई।

इधर संसद के मानसून सत्र में भी विपक्षी पार्टियों ने महंगाई और ईंधन के मसले पर सरकार को घेरने की तैयारी कर ली है। हालांकि सरकार ने सत्र में पेश किये जाने के लिये 17 नये विधेयकों को सूचीबद्ध किया है। इनमें से तीन बिल हाल ही में जारी किये गये अध्यादेशों को बदलने का प्रयास करते हैं। एक बार सत्र शुरू होने के बाद अध्यादेश को 42 दिनों या छह सप्ताह के भीतर विधेयक के रूप में पारित करना होता है, अन्यथा यह समाप्त हो जाता है। 30 जून को जारी किये गये अध्यादेशों में से एक, आवश्यक रक्षा सेवाओं में लगे किसी भी व्यक्ति द्वारा किसी भी आंदोलन और हड़ताल को प्रतिबंधित करता है। 12 जुलाई को जारी लोकसभा बुलेटिन के अनुसार अध्यादेश को बदलने के लिये आवश्यक रक्षा सेवा विधेयक 2021 को सूचीबद्ध किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *