क्या राहुल गांधी-नीतीश कुमार में सेटिंग की ओर इशारा कर रहे हैं चिराग, बिहार में नया ट्विस्ट

पटना
बिहार में पहले चरण का मतदान संपन्न हो चुका है। 54 फीसदी से अधिक मतदान होने के बाद महागठबंधन और एनडीए, दोनों ने ही अपनी जीत के दावे किए हैं। हालांकि असल में जीत किसकी होगी ये तो 10 नवंबर को ही पता चलेगा। अभी दो चरण बाकी हैं और ये देखना है कि अंत तक अपना जलवा कौन कायम रखता है। इस बीच लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने नीतीश कुमार पर एक अलग ही एंगल से निशाना साधा है। चिराग ने इस बार राहुल गांधी को लेकर नीतीश कुमार पर तंज कसा है। आपने वो कहीं पर निगाहें, कहीं पर निशाना वाली बात जरूर सुनी होगी। तो चिराग के तंज में भी यही बात नजर आ रही है।

राहुल गांधी संग सेटिंग की ओर इशारा?

Bihar elections 2020: Questions raised as BJP goes soft on Chirag Paswan |  Bihar Assembly Elections 2020 Election News - Times of India

असल में चिराग पासवान ने गुरुवार को एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में चिराग ने राहुल गांधी के बयानों का हवाला देते हुए नीतीश पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट में लिखा, ‘बिहार की धरती पर राहुल गांधी जी ने प्रधानमंत्री जी के सम्बंध मे पंजाब में हुई निंदनीय घटना का उल्लेख किया और बिहार के मौजूदा मुख्यमंत्री @NitishKumar
जी ख़ामोश है। प्रधानमंत्री के साथ स्टेज शेयर करने को बेताब रहते है मगर राहुल गांधी के इस घृणित बयान पर अपना मुँह नहीं खोलते है।’ ऐसे में सवाल ये है कि क्या चिराग राहुल गांधी संग नीतीश की किसी सेटिंग की ओर इशारा करने की कोशिश कर पॉलिटिक्स खेलना चाह रहे हैं?

इस सेटिंग का आधार क्या?

LJP Chief Chirag Paswan warns BJP that CM Nitish Kumar will switch sides to  RJD after Elections to make Mahagathbandhan Alliance: चुनाव के बाद RJD से  दोस्ती के लिए BJP को धोखा

बिहार चुनाव में इस बार गठबंधन को लेकर एनडीए में काफी उहापोह देखने को मिला। चिराग ने नीतीश का साथ छोड़ा लेकिन आज भी इस बात पर कायम हैं कि वो भाजपा के साथ हैं। एक कदम आगे बढ़कर कहते हैं कि भाजपा संग सरकार बनाएंगे और नीतीश कुमार को जेल भेजेंगे। पीएम मोदी ने अबतक एक बार भी चिराग पासवान पर सीधा निशाना नहीं साधा है। बिहार के सियासी वातावरण में कई किस्से तैर रहे हैं। एक किस्सा ये है कि बीजेपी इस बार नीतीश को चौतरफा घेर कर गठबंधन के दायरे में ही सियासी पटखनी देने की तैयारी में है। अब नीतीश ने भी धूप में तो अपने बाल सफेद किए नहीं हैं। ऐसे में एक कहानी ये बताई जा रही है कि नीतीश भी अपने सारे ऑप्शन खुले रखना चाहते हैं।

तो क्या चुनाव बाद नीतीश-कांग्रेस के साथ होने का भी सीन है?

Rahul Gandhi for UP CM: Script by Prashant Kishor, Directed By Nitish Kumar  - TFIPOST

आप ही बताइए, सियासत में कुछ असंभव है क्या। नीतीश कुमार को बीजेपी अगर डंप करती है तो क्या वो चुनाव बाद कांग्रेस का साथ ले सकते हैं? ये सारी चीजें तय होंगी नतीजों के बाद। ये सवाल इसलिए भी चर्चा में है क्योंकि कांग्रेस इस बार 70 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। अगर सत्ता विरोधी लहर में कांग्रेस की सीटें बढ़ गईं और घात-प्रतिघात की राजनीति ने जोर पकड़ा तो ऊंट किस करवट बैठेगा, कोई नहीं जानता। ऐसे में चिराग इस तरह की बयानबाजी कर आशंका के बादलों को और घना करना चाहते हैं, क्योंकि वोटर जितना आशंकित होता है मतों का बिखराव उतना ज्यादा होता है। चिराग को पता है कि बिहार में उनका भविष्य फिलहाल मतों के बिखराव पर ही टिका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *