विधायक गोपाल मंडल राजधानी एक्सप्रेस में अपनी लंगटई दिखाते हुये। Image Source : local arrangement

JDU के लंगटे MLA की राजधानी एक्सप्रेस में लंगटई- गंजी-जांघिये में घूमने पर टोका तो गाली-गलौज, हंगामा

Patna : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड के लंगटे विधायक गोपाल मंडल ने कल नई दिल्ली जा रही राजधानी एक्सप्रेस में खूब लंगटई की। यात्रियों से गाली गलौज की। खूब हंगामा किया। यात्रियों की गलती बस इतनी थी कि अंडरवियर में घूम रहे विधायक को कपड़े पहनने के लिये टोक दिया। जैसा कि पत्रकार संतोष पांडेय ने विधायक गोपाल मंडल की फोटो पोस्ट कर अपने फेसबुक पर लिखा है- ये हैं जेडीयू विधायक गोपाल मंडल। मुख्यमंत्री के चहेते हैं। इनके अंडरवियर में तेजस ट्रेन में घूमने पर सहयात्री ने विरोध किया तो आरोप है कि विधायक गाली-गलौज और मारपीट करने पर उतर आये ! सवाल है कि विधायक जी जो बिहार के हैं, देशवासियों को क्या संदेश देना चाहते हैं? लंगटपन के हद को पार करने में इन्होंने तनिक भी चूक नहीं की। बिहार के संस्कार को ताक पर रख दिया। एक राजनेता अपने राज्य के लिए अच्छे संस्कार का निर्माण करता है पर गोपाल मंडल जी ने अपना यह चरित्र परोस बिहार को शर्मसार किया है। मुख्यमंत्री जी को ऐसे राजनेताओं के लिये बिहार में संस्कार पाठशाला खोलने की जरूरत है।

बहरहाल खबर यह है कि पटना (राजेंद्र नगर) से नई दिल्ली जा रही 02309 तेजस राजधानी एक्सप्रेस में नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यू के विधायक गोपाल मंडल अंडरवियर में घूम रहे थे। वह सिर्फ गंजी और अंडरवियर में नजर आ रहे थे। इसके बाद कोच में मौजूद दूसरे यात्री ने कड़ी आपत्ति जताई। इस पर विधायक गोपाल मंडल ने आपत्ति करने वाले यात्री को गालियां दीं। चलती ट्रेन में कोच के अंदर काफी हंगामा हुआ। सूचना पर ट्रेन को एस्कॉर्ट कर रही आरपीएफ की टीम मौके पर पहुंच गई। विधायक व यात्री को समझाने का प्रयास किया। यह घटना तब हुई जब ट्रेन दिलदारनगर स्टेशन से गुजर चुकी थी। आरपीएफ ने इसकी पुष्टि की है।
तेजस राजधानी एक्सप्रेस के ए-1 कोच की सीट नंबर 13, 14 और 15 पर विधायक गोपाल मंडल और उनके साथी सफर कर रहे थे। वहीं, जहानाबाद निवासी प्रहलाद पासवान अपने परिवार के साथ उसी कोच में सीट संख्या 22-23 पर सवार थे। दोनों के टिकट पटना जंक्शन से नई दिल्ली के थे। विधायक गोपाल मंडल कोच में कपड़े खोलकर गंजी और अंडरवियर पहनकर शौचालय गये। जब वह लौटा तो प्रह्लाद ने विरोध किया। महिला यात्रियों का हवाला दिया। लेकिन, इस बात को समझने के बजाय विधायक हंगामा करने लगे। इसके बाद ट्रेन में मौजूद आरपीएफ की टीम ने रेलवे पुलिस को पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन की सूचना दी। ट्रेन जब वहां पहुंची तो उत्तर प्रदेश की रेलवे पुलिस आ गई।

आरपीएफ के एक अधिकारी के मुताबिक यात्री प्रह्लाद ने इस मामले में कोई लिखित शिकायत नहीं की है। वैसे भी जदयू विधायक गोपाल मंडल अपने अलग-अलग कारनामों को लेकर हमेशा चर्चा में रहे हैं। हाल ही में उन्होंने बिहार के डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद पर अवैध रूप से जबरन वसूली करने का गंभीर आरोप लगाया था, फिर कुछ दिनों बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में वह उसी डिप्टी सीएम को आई लव यू कहते रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *