Image Source :https://www.facebook.com/rakesh.dubey.942

काली कमाई का किंग- कभी निकाला नहीं वेतन का पैसा, पटना में कई जमीन, नोएडा से बिहार तक अरबों की प्रोपर्टी

Patna : बिहार के अफसरों, इंजीनियरों ने तो अवैध कमाई करने में कीर्तिमान स्थापित कर दिया है। नित नये खुलासे चौंकानेवाले हैं। आज बिहार में सभी सरकारों के दो दशक तक बेहद दुलरुआ रहे प्रमोटी आईपीएस राकेश दुबे के चार ठिकानों पर छापे के बाद बिहार में काली कमाई का एक नया चेहरा सामने आ गया है। हैरत की बात यह है कि राकेश दुबे की पूरी सैलरी तो बची रह जाती थी। अपनी सेवा के दौरान वेतन खाते से न के बराबर नकद निकासी की है। लेकिन दिल्ली से लेकर पटना और झारखंड तक प्रोपर्टी खरीद ली। अकूत संपदा का मालिक बन बैठा। छापेमारी में 2 करोड़ 55 लाख 59 हजार 691 रुपये की आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का मामला सामने आया है। आईपीएस राकेश दुबे ने बिहार, झारखंड से लेकर यूपी तक के इंफ्रास्ट्रक्चर आईपीसी, देवघर-रांची, कामिनी इंफ्रास्ट्रक्चर, पाटलिपुत्र बिल्डर (डायरेक्टर अनिल कुमार), ख्याति कंस्ट्रक्शन, मैक्स ब्लीफ, नोएडा बिल्डकॉन समेत कई अन्य बिल्डर कंपनियों में निवेश किया है।

खबर है कि राकेश दुबे ने करोड़ों रुपये ब्याज पर भी लगा रखा है। फुलवारीशरीफ में डीएसपी पद पर नियुक्ति के दौरान राकेश दुबे ने काफी जमीन खरीदी। सारे जमीन के दस्तावेज मिल गये हैं। आज बिहार पुलिस सेवा के 42वें बैच के आईपीएस अफसर बने राकेश दुबे के 4 ठिकानों पर गुरुवार को छापेमारी की गई। इनमें पटना के एसके पुरी और इंजीनियर नगर में मकानों और फ्लैटों के अलावा झारखंड के जसीडिह स्थित सचिंद्र रेजीडेंसी और उनके पैतृक गांव सिमरिया में छापेमारी की गई।
बालू माफिया के सहयोग से अवैध बालू खनन कर बेशुमार संपत्ति अर्जित करने वाले अधिकारियों के खिलाफ बिहार में लगातार कार्रवाई जारी है। भोजपुर के पूर्व एसपी व निलंबित आईपीएस अधिकारी राकेश दुबे के परिसरों में गुरुवार को की गई छापेमारी में 2 करोड़ 55 लाख 59 हजार 691 रुपये की आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का मामला सामने आया है। आर्थिक अपराध इकाई द्वारा जानकारी दी गई है कि निलंबित एसपी राकेश दुबे ने मित्रों और परिवार के माध्यम से काले धन को सफेद करने का प्रयास किया है।
आर्थिक अपराध इकाई के अनुसार भोजपुर के पूर्व एसपी राकेश दुबे ने पटना और देश के अन्य प्रमुख शहरों में रियल एस्टेट कंपनियों में भारी निवेश किया है। जांच टीम को पता चला है कि राकेश दुबे ने ख्याति कंस्ट्रक्शन के बैंक खाते में 25 लाख रुपये ट्रांसफर किये हैं। पटना के फुलवारीशरीफ में डीएसपी पद पर नियुक्ति के दौरान राकेश दुबे द्वारा काफी जमीन खरीदने की भी खबर है। आर्थिक अपराध इकाई की टीम को राकेश दुबे द्वारा उसकी मां और बहन के नाम चल अचल संपत्ति खरीदने की सूचना मिली है, जिसका सत्यापन अधिकारी कर रहे हैं।
आर्थिक अपराध इकाई के अनुसार, आईपीएस अधिकारी ने जसीडीह में सचिंद्र रेजीडेंसी होटल के अलावा सुखरानी रेस्टोरेंट और मैरिज हॉल के निर्माण में निवेश किया है। राकेश दुबे ने अपने और अपनी पत्नी के नाम पर म्यूचुअल फंड में करीब 12 लाख रुपये का निवेश किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *