मौके पर पल पल की जानकारी लेते एसएसपी। मौका ए वारदात। Image Source : Live Bihar/Vishal kumar

मुजफ्फरपुर में लाइव इनकाउंटर- बैंक लुटेरों को पुलिस ने घेरा, एक मारा गया, तीन अपराधी घायल, दो तमाशबीन को गोली लगी

Patna : मुजफ्फरपुर में जब आज लाइव इन्काउन्टर हुआ तो पूरा शहर दहल उठा। बैंक ऑफ बड़ौदा के एक ब्रांच को लूटने आये लुटेरों को जब पुलिस ने घेरा तो फायरिंग शुरू हो गई। पुलिस ने भी मोर्चा लिया। एसएसपी जयंत कांत ने जाबाजी का प्रदर्शन करते हुये खुद ही इस पूरे एनकाउन्टर का नेतृत्व किया। दो लुटेरे भाग गये लेकिन बाकी लुटेरों को पुलिस धर-दबोचने में कामयाब हुई। इसमें दो आम लोगों को भी गोली लग गई। दोनों छुपकर लाइव इनकाउन्टर देख रहे थे कि गोलियां शरीर में आ धंसीं। इस एनकाउंटर में दोतरफा गोलीबारी हुई बिलकुल फिल्मी स्टाइल में। पुलिस ने एक अपराधी को मौके पर ही मार गिराया जबकि तीन अन्य को शरीर के अलग अलग हिस्सों में गोली लगी और वे घायल होकर जमीन पर गिर पड़े।

पता चला है कि मुजफ्फरपुर के मोतीपुर के पचरुखी चौक स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा को लूटने के लिये अपराधी जा रहे हैं इसकी भनक पहले ही पुलिस को लग गई थी। फिर क्या था एसएसपी के नेतृत्व में पुलिस की पूरी टीम सादी वर्दी में बैंक के इर्दगिर्द मंडराने लगी। इस बीच आधा दर्जन बाइक और पिकअप सवार पहुंचे। दो लुटेरे बाहर रुके और रेकी करने लगे और चार अंदर घुसे और पिस्टल लहराकर कैश काउंटर लूटने का प्रयास किया।
इस दौरान पुलिस ने छापेमारी कर दी। खुद को फंसा देख लुटेरों ने फायरिंग शुरू कर दी। बैंक के अंदर दो राउंड फायरिंग की गई। पुलिस की ओर से जवाबी फायरिंग भी की गई। दोनों ओर से करीब डेढ़ दर्जन राउंड फायरिंग की गई। एसएसपी जयंत कांत खुद टीम के साथ बाहर लुटेरों से भिड़ गये। भारी फायरिंग हुई। इसी बीच स्थानीय दुकानदार बुधन और छिपकर एनकाउंटर का नजारा देख रहे युवक रोहित को एक गोली लग गई। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने एक लुटेरे को मार गिराया। अन्य तीन को गोली लगी और वे गिर गये। वहीं, दो लुटेरे मौके से फरार होने में कामयाब हो गये।
फिलहाल पुलिस की टीम पूरे इलाके में तलाशी अभियान चला रही है। घायल स्थानीय का इलाज बैरिया के एक निजी अस्पताल में चल रहा है। रोहित को तीन गोलियां और दुकानदार के पैर में एक गोली लगी है। अपराधियों को एसकेएमसीएच लाया गया है। एसएसपी ने कहा कि पुलिस को पचरुखी चौक स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा में लूट की योजना की जानकारी सर्विलांस सेल के माध्यम से पहले ही मिल चुकी थी। फायरिंग में कोई पुलिसकर्मी घायल नहीं हुआ।
बैंक में कैश बिल्कुल सुरक्षित है। फरार अपराधियों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। मौके से लुटेरों की पिकप, बाइक व पिस्टल व खोखा बरामद हुआ है। घटना के बाद एफएसएल की टीम बैंक पहुंची। वहां से सबूत के तौर पर खून के नमूने लिये गये। बैंक मैनेजर संतोष कुमार ने बताया कि उस वक्त बैंक में छह कर्मचारी मौजूद थे। कैश पूरी तरह सुरक्षित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *