15 जून से नालंदा, नवादा, शेखपुरा, जमुई की बसें आईएसबीटी से खुलेंगी, 15 जुलाई तक बंद होगा मीठापुर बस स्टैंड

Patna : अब 15 जुलाई के बाद बसों को परिचालय अंतरराज्यीय बस टर्मिनल से शुरू हो जायेगा। इस बिल्डिंग का लगभग सारा काम पूरा हो गया है, जो थोड़े बहुत काम बचे हैं उसे जल्द से जल्द पूरा करने को कहा गया है। इस तरह मीठापुर बस स्टैंड 15 जुलाई तक पूरी तरह बंद हो जायेगा। सारी व्यवस्थाएं पाटलिपुत्र अंतरराज्यीय बस टर्मिनल बैरिया में शिफ्ट हो जायेगा। वहीं से सभी जगहों के लिये बसें खुलने लगेंगी। टर्मिनल में पहले फ्लोर की तरह की ग्राउंड फलोर पर भी शौचालय, यूरिनल और पेयजल की सुविधा मिलने लगेगी। पथ निर्माण विभाग 15 जुलाई से पहले जीरोमाइल से पाटलिपुत्र बस टर्मिनल तक संपर्क पथ का चौड़ीकरण कर देगा।

नगर विकास सचिव आनंद किशोर ने बुधवार को को स्पष्ट कहा कि 15 जुलाई से मीठापुर बस स्टैंड को पूरी तरह बंद करें और पाटलिपुत्र अंतराज्यीय बस टर्मिनल को पूर्णत: चालू करें।
पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को 15 जुलाई से पहले जीरोमाइल से पाटलिपुत्र बस टर्मिनल के संपर्क पथ के चौड़ीकरण का आदेश दिया। टर्मिनल के निकट पुलिया का निर्माण 20 जून तक पूरा करने को कहा। बुडको के प्रबंध निदेशक को कहा गया कि वे पुलिया का निर्माण तेजी से करने के लिए ट्रॉली माउंटेड पंप की सुविधा सुनिश्चित कर दें ताकि बारिश में काम नहीं रुके।
15 जून से ही नालंदा, नवादा, शेखपुरा व जमुई की यात्री बसें मीठापुर बस स्टैंड की जगह पाटलिपुत्र बस टर्मिनल बैरिया से खुलने लगेंगी। इसके लिये सभी आवश्यक कार्रवाई पूरी करने का निर्देश दिया। बैठक में डीएम चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन पाटलिपुत्र बस टर्मिनल से सभी बसों का संचालन करने के लिये पूरी तरह तैयार है। 15 जुलाई से मीठापुर बस स्टैंड से सभी बसों का संचालन बंद कर दिया जायेगा। जिला प्रशासन द्वारा तैयारी कर ली गई है और सभी प्रकार की कार्रवाई की जा रही है। बुडको के एमडी रमन कुमार ने कहा कि पाटलिपुत्र बस टर्मिनल में यात्रियों को दिक्कत नहीं हो, इसके लिए बुडको लगातार कार्य कर रहा है। वहां पर जलजमाव से निबटने के लिए भी कार्रवाई की गई है। बैठक में पथ निर्माण विभाग, नगर निगम के पदाधिकारी सहित सभी संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।
बुधवार को डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने चार जिलों के लिये बसों का परिचालन शुरू करने के लिये स्थल निरीक्षण कर जानकारी ली। इस दौरान वहां चल रहे निर्माण कार्य को एक सप्ताह में पूरा करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही बीएसआरडीसी के अभियंताओं को निर्माण कार्य तेजी लाने और शौचालय व पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था कराने का निर्देश दिया ताकि भीड़ बढ़ने के बाद यात्रियों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। उन्होंने कहा कि पहले चरण में गया और जहानाबाद के लिए बसों का परिचालन शुरू किया गया था। यह परिचालन ट्रायल के तौर पर था। इसकी सफलता के बाद 15 जून से चार जिलों के लिए बसों का परिचालन शुरू करने का निर्णय लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *