ऐसे गांवों को 21 लाख देने की तैयारी में नीतीश सरकार, देखें आपके गांव का भाग्य खुलेगा या नहीं

पटना

बिहार में फिर से सरकार बनाने में कामयाब रहे नीतीश कुमार अब प्रशासनिक कार्यों में जुट गए हैं। इस बार जो खबर आ रही है, वह बिहार के गांवों के लिए गुड न्यूज कही जा सकती है। नीतीश सरकार बिहार के खास गांवों को आदर्श गांव बनाने की तैयारी में है। इसमें हर घर नल का पानी, बुनियादी सुविधाएं और इंटरनेट की व्यवस्था आदि करने की तैयारी है। खास बात यह है कि योजना के तहत ऐसे गांवों को 21 लाख रुपये देने की भी बात है। अब सवाल यह है कि आखिर जिन गांवों पर कृपा बरसेगी वो गांव कौन हैं।

ऐसे गांवों को बनाया जाएगा आदर्श

असल में नीतीश सरकार ने पिछले और दलित बाहुल्य गांवों को संवारने की योजना बनाई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रदेश में ऐसी 8300 पंचायतों तो चिन्हित करने का काम जल्दी शुरू होगा। लक्ष्य बनाया गया है कि आने वाले 5 सालों में ऐसे 4500 गांवों को आदर्श गांव बनाया जा सके जहां दलित आबादी 500 या उससे अधिक है। ऐसे गांवों के विकास के लिए केंद्र और राज्य से चल रही वर्तमान योजनाओं के क्रियान्वयन पर भी फोकस किया जाएगा।

क्या जाति का कार्ड खेल रही सरकार?

बिहार में नीतीश कुमार भी अपनी खास सोशल इंजीनियरिंग के लिए जाने जाते हैं। लालू के पिछड़ा और दलित जाति की राजनीति का तोड़ नीतीश ने अति पिछड़ा और महा दलित की राजनीति से निकाला है। राजनीति के जानकारों का कहना है कि नीतीश अब इस तबको को अपना कोर वोटर मानकर चल रहे हैं। ऐसे में उनकी योजनाओं में इन तबकों के ऊपर ध्यान दिया जाना अवश्यंभावी ही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *