प्रतीकात्मक तस्वीर। Image Source : PTI

वैक्सीनेटेड शिक्षक ही पढ़ायेंगे, ऑनलाइन को प्राथमिकता, मिड-डे मील, खाने की चीजें स्कूल में बंद

Patna : स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थानों में सिर्फ वही शिक्षक पढ़ा सकेंगे, जिन्होंने कोरोना की वैक्सीन ले ली है। सभी संस्थानों के प्रमुख यह सुनिश्चित करेंगे कि केवल वैक्सीन लेने वाले शिक्षकों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों को ही संस्थान में काम करने की अनुमति दी जाये। वहीं मध्याह्न भोजन योजना का संचालन बंद रहेगा। शिक्षा विभाग ने गुरुवार को नौवीं और दसवीं कक्षा के लिये 7 अगस्त और 16 अगस्त से कक्षा एक से आठवीं तक के स्कूल खोलने के संबंध में आदेश जारी किया है। अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने सभी कुलपतियों और सभी जिलाधिकारियों और सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को दिशा-निर्देशों का पालन करने के निर्देश दिये हैं। इसी के तहत सभी कक्षाओं से संबंधित परीक्षा के लिये शैक्षणिक कैलेंडर की योजना बनाने का भी निर्देश दिया गया है।

विभाग ने कहा है कि ऑनलाइन माध्यम से शिक्षा व्यवस्था को प्राथमिकता दी जायेगी और शिक्षण संस्थानों के वयस्क छात्रों, शिक्षकों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन लेना सुनिश्चित किया जायेगा। 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ स्कूल आदि खोलने का निर्णय लिया गया है। हर छात्र एक दिन बाद स्कूल आयेगा। विभाग ने कहा है कि स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान परिसर की कक्षाओं, फर्नीचर, उपकरण, स्टोररूम, पानी की टंकी, रसोई, प्रयोगशाला, पुस्तकालय आदि की सफाई सुबह सुबह सुनिश्चित की जायेगी।
शौचालयों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। सेनेटाइजेशन किया जायेगा। संस्थानों में हैंड सैनिटाइजेशन की सुविधा अनिवार्य होगी। डिजिटल थर्मामीटर, सैनिटाइजर, साबुन आदि की व्यवस्था की जायेगी। स्कूलों और संस्थानों में टास्क टीम बनाई जायेगी, जो साफ-सफाई और सैनिटाइजेशन आदि पर नजर रखेगी। छात्रों को छह फीट की दूरी पर बैठाया जायेगा। संस्थान के समीप स्थल पर स्वास्थ्य परीक्षकों, नर्सों, चिकित्सकों एवं परामर्शदाताओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी, जो छात्रों की शारीरिक एवं मानसिक स्थिति की जांच के लिए उपलब्ध रहेंगे।
स्कूल-कॉलेज परिसर में बाहरी वेंडरों को खाने-पीने की चीजों की बिक्री पर रोक रहेगी। बीमारी की छुट्टी की नीति को लचीला बनाया जायेगा। ऐसे आवेदन पर उन्हें घर पर रहने की अनुमति दी जानी चाहिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *