स्मार्ट सिटी की पहली झलक, आज 6.98 करोड़ की मेगास्क्रीन गांधी मैदान के नाम, जानें खासियत

पटना
स्मार्ट सिटी का नाम सुनते-सुनते आप भी शायद थक गए हों। आपको भी लगता होगा कि क्या यार, ये केवल स्मार्ट सिटी के नाम पर कहीं बरगलाया तो नहीं जा रहा है। लेकिन अब ऐसा नहीं है। बिहार में पहली बार स्मार्ट सिटी की एक ठोस झलक आपको दिखने जा रही है। वह भी आज से। यह झलक आपको दिखेगी बिहार की राजधानी पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में। पटना में पहली बार स्मार्ट सिटी के अंतर्गत आने वाले किसी प्रोजेक्ट का उद्घाटन होने जा रहा है। इसका उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से करेंगे। अब जबकि आज यह योजना बिहार के जनता के नाम हो जाएगी तो आइए उससे पहले इसकी खासियत जान लेते हैं।

पटना स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने इस मेगास्क्रीन को बनाकर तैयार कर लिया है। उनका दावा है कि सार्वजनिक जगहों के लिए ऐसी मेगास्क्रीन सिर्फ पटना में ही बनकर तैयार हुई है। अब अगर यह दावा सही है तो हर पटनावासी और बिहारवासी को इसके लिए गर्व तो होना ही चाहिए। खैर सबसे पहले तो यह जान लीजिए कि हम इसे मेगास्क्रीन क्यों कह रहे हैं। असल में इसकी साइज है 75X42 फीट। अब आप खुद ही जान गए होंगे कि इसे मेगास्क्रीन क्यों कहा जा रहा है। इस स्क्रीन को 30 फीट की ऊंचाई पर लगाया गया है। इसपर शाम को सूरज ढलने के बाद सिनेमा, डॉक्युमेंट्रीज, खेल कार्यक्रम आदि का प्रसारण किया जाएगा। गांधी मैदान के पास गेट नंबर 3-4 के पास कंट्रोल रूम बनाया गया है। वहीं से इस स्क्रीन पर होने वाले प्रसारण को नियंत्रित किया जाएगा।

इंटीग्रेटेड कंट्रोल कमांड सेंटर पूरे पटना पर रखेगा नजर

मेगास्क्रीन के उद्घाटन के अलावा इंटीग्रेटेड कंट्रोल कमांड सेंटर का शिलान्यास भी होगा। गांधी मैदान क्षेत्र में स्थित एसएसपी कार्यालय परिसर में यह इंटीग्रेटेड कंट्रोल कमांड सेंटर बनाया जाना है। यह एक बहुमंजिला इमारत होगी। इसके पहले, दूसरे और तीसरे तल पर सर्वर रूम, वीडियो वॉल और ऑपरेटर वर्क स्टेशन जैसी चीजें होंगी। यहीं से पुलिस या संबंधित विभाग के कर्मचारी पूरे शहर की निगरानी करेंगे। इमारत की टॉप फ्लोर यानी चौथी मंजिल पर स्मार्ट सिटी का दफ्तर शिफ्ट किया जाएगा। इस परियोजना के पूरा होने के बाद पटना शहर की निगरानी काफी मुस्तैदी से हो सकेगी। इससे क्राइम कंट्रोल करने में भी काफी सुविधा होगी।

13.16 करोड़ रुपये की लागत आएगी

इंटीग्रेटेड कंट्रोल कमांड सेंटर का भवन बनाने में 13 करोड़ 16 लाख रुपये की लागत आने वासी है। 12 महीने के भीतर इस चार मंजिले भवन के निर्माण का लक्ष्य बनाया गया है। आपको बता दें कि 100 शहरों की स्मार्ट सिटी की रैंकिंग में पटना अब 28वें स्थान पर पहुंच गया है। इसके पहले इसी महीने में पटना की रैंकिंग 47 थी। प्रोजेक्ट जल्दी पूरा होने से इस रैंकिंग में सुधार दिखाई पड़ा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *