बिहार: 294.43 करोड़ की मछली, कृषि योजनाओं का दबेगा बटन, इन 10 जिलों में होगा बंपर काम

पटना
पूरे बिहार राज्य के लिए 10 सितंबर को एक गुड न्यूज मिलने वाली है। बिहार के 10 जिलों में विभिन्न परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास की तैयारी है। कुल मिलाकर देखें तो 294.53 करोड़ रुपये के लागत की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया जाना है। खास बात यह है कि ये परियोजनाएं मछली, पशु पालन और खेती-किसानी से जुड़ी हुई हैं। लॉकडाउन के दौरान देश के अलग-अलग हिस्सों में काम करने वाले बिहारी मजदूरों को पलायन कर घर वापस आना पड़ा। ऐसे में बिहार सरकार की जबर्दस्त आलोचना हुई कि आखिर बिहारी लोगों को बिहार में ही रोजगार क्यों नहीं मिल पा रहा है। ऐसी स्थिति में सरकार ने बिहार में नई-नई परियोजनाओं को लॉन्च करने की तैयारी की है।

आइए अब आपको विस्तार से बताते हैं कि बिहार के 10 जिलों में इतनी बड़ी राशि से क्या-क्या होने जा रहा है। दरअसल बिहार के डिप्टी सीएम ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर 10 सितंबर के इस कार्यक्रम की जानकारी दी है। उन्होंने बताया है कि 294.53 करोड़ रुपये के लागत की विभिन्न योजनाओं का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। इसके अलावा आगामी 25 सितंबर तक 5 चरणों में दूसरे विभागों की योजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन का कार्यक्रम भी प्रस्तावित है।

10 सितंबर को पीएम मोदी मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत 107 करोड़ की लागत परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे। इसके अलावा 5 करोड़ की लागत से सीतामढ़ी के डुमरा में बखरी बीज फार्म, किशनगंज में 10 करोड़ की लागत से रोग निदान और गुणवत्ता परीक्षण के लिए मत्स्य पालन कॉलेज और पटना के बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में जलीय रेफरल प्रयोगशालाएं, मधेपुरा में एक करोड़ की लागत से मत्स्य चारा मिल, पटना के मसौढ़ी में 2 करोड़ की लागत से फिश ऑन व्हील्स और कृषि विश्वविद्यालय पूसा में 2.87 करोड़ की लागत से समेकित मात्स्यिकी उत्पादन प्रौद्योगिकी केंद्र का उद्घाटन किया जाएगा।

Posted by Janata Dal (United) on Monday, September 7, 2020

इसके अलावा पीएम मोदी पूर्णिया में 84.27 करोड़ की लागत से सीमेन स्टेशन, पटना पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में 8.06 करोड़ की लागत से इम्ब्रयो ट्रांसफर टेक्नोलॉजी (ईटीटी) व आईवीएफ लैब और 2.13 करोड़ की लागत से बेगुसराय, खगड़िया, समस्तीपुर, नालंदा और गया में तैयार सेक्स सॉर्टेड सीमेन परियोजना का शुभारंभ करेंगे।

इसके साथ ही समस्तीपुर के डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय में कुल 74 करोड़ की विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी होगा। इसके तहत 11 करोड़ की लागत से बनाए गए स्कूल ऑफ एग्रीबिजनेस एंड रूरल मैनेजमेंट के भवन का उद्घाटन किया जाएगा। इसके अलावा पीएम मोदी की तरफ से 27 करोड़ के बॉयज हॉस्टल, 25 करोड़ के स्टेडियम और 11 करोड़ के इंटरनेशनल गेस्ट हाउस का शिलान्यास किया जाएगा।

मैं माननीय मुख्यमंत्री जी को वर्चुअल दूनिया से असली दुनिया में लाना चाहता हूँ और ज़मीनी हकीकत से अवगत कराना चाहता हूँ।…

Posted by Tejashwi Yadav on Monday, September 7, 2020

आपको बता दें कि बिहार के मुख्य विपक्षी नेता तेजस्वी यादव ने पिछले कुछ महीनों से रोजगार को लेकर नीतीश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। राजद ने बिहार में सर्वाधिक बेरोजगारी का दावा किया है। बिहार के बेरोजगारों के लिए राजद ने अलग से एक पोर्टल लॉन्च किया है। लोगों से इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन का आह्वान किया जा रहा है। राजद की तरफ से वादा किया गया है कि अगर बिहाह विधानसभा चुनावों में महागठबंधन की जीत होती है तो इस डाटाबेट में रजिस्टर्ड लोगों को रोजगार मुहैया कराया जाएगा।

रोजगार के फ्रंट पर घिरने की वजह से नीतीश सरकार के सामने भी चुनौती है कि वह लोगों को बताए कि उनके लिए क्या किया जा रहा है। ऐसे में चुनाव के नजदीक आते ही तमाम योजनाओं की न केवल घोषणाएं हो रही हैं बल्कि लंबित योजनाओं को जल्द से जल्द पूरा करने की तैयारी भी चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *