जर्दालू आम, मखाना, मधुबनी पेटिंग्स का जिक्र कर PM ने बिहार के इन 10 जिलों को दी 294 करोड़ की सौगत

पटना
गुरुवार को बिहार के लोगों के लिए वर्चुअल कार्यक्रम में पीएम मोदी कई सारी सौगातें लेकर आए। पीएम मोदी ने बिहार के लोगों से सीधा संवाद करते हुए 294 करोड़ रुपये से अधिक की योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया है। आपको बता दें कि ये एक तरह की पीएम मोदी की वर्चुअल रैली है। बिहार में आने वाले दिनों में पीएम मोदी की ऐसी कई वर्चुअल रैलियां प्रस्तावित हैं। 10 सितंबर से शुरू हुई इन वर्चुअल रैलियों का कार्यक्रम 23 सितंबर तक चलेगा। आपको बता दें कि पीएम मोदी ने बिहार में मत्स्य पालन और पशुपालन क्षेत्रों में कई अन्य पहलों के साथ-साथ किसानों के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना (पीएमएमएसवाई) और ई-गोपाल ऐप को भी डिजिटली लॉन्च किया है। आइए आपको विस्तार से बताते हैं कि बिहार के किन जिलों को कौन सी सौगात मिली है।

पीएम मोदी ने बिहार में मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत 107 करोड़ की लागत परियोजनाओं का शुभारंभ किया है। इसके अलावा 5 करोड़ की लागत से सीतामढ़ी के डुमरा में बखरी बीज फार्म, किशनगंज में 10 करोड़ की लागत से रोग निदान और गुणवत्ता परीक्षण के लिए मत्स्य पालन कॉलेज और पटना के बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में जलीय रेफरल प्रयोगशालाएं, मधेपुरा में एक करोड़ की लागत से मत्स्य चारा मिल, पटना के मसौढ़ी में 2 करोड़ की लागत से फिश ऑन व्हील्स और कृषि विश्वविद्यालय पूसा में 2.87 करोड़ की लागत से समेकित मात्स्यिकी उत्पादन प्रौद्योगिकी केंद्र का उद्घाटन किया गया है।

पीएम मोदी पूर्णिया में 84.27 करोड़ की लागत से सीमेन स्टेशन, पटना पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में 8.06 करोड़ की लागत से इम्ब्रयो ट्रांसफर टेक्नोलॉजी (ईटीटी) व आईवीएफ लैब और 2.13 करोड़ की लागत से बेगुसराय, खगड़िया, समस्तीपुर, नालंदा और गया में तैयार सेक्स सॉर्टेड सीमेन परियोजना का शुभारंभ करेंगे।

इसके साथ ही समस्तीपुर के डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय में कुल 74 करोड़ की विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया गया है। इसके तहत 11 करोड़ की लागत से बनाए गए स्कूल ऑफ एग्रीबिजनेस एंड रूरल मैनेजमेंट के भवन का उद्घाटन किया गया है। इसके अलावा पीएम मोदी की तरफ से 27 करोड़ के बॉयज हॉस्टल, 25 करोड़ के स्टेडियम और 11 करोड़ के इंटरनेशनल गेस्ट हाउस का शिलान्यास किया गया है।

पीएम मोदी ने इस मौके पर कहा, ‘आज जितनी भी ये योजनाएं शुरू हुई हैं उनके पीछे की सोच ही यही है कि हमारे गांव 21वीं सदी के भारत, आत्मनिर्भर भारत की ताकत बनें, ऊर्जा बनें। बिहार के पटना, पूर्णियां, सीतामढ़ी, मधेपुरा, किशनगंज और समस्तीपुर में अनेक सुविधाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया गया है। इससे मछली उत्पादकों को नया इंफ्रास्ट्रक्चर मिलेगा, आधुनिक उपकरण मिलेंगे, नया मार्केट भी मिलेगा।’

जब पीएम ने बिहार के जर्दालू आम, लीची, मधुबनी पेटिंग्स का किया जिक्र

पीएम मोदी ने अपनी वर्चुअल रैली में बिहार लोकल के लिए वोकल करते हुए आत्मनिर्भर बनाने का मंत्र दिया। पीएम ने इस दौरान जर्दालू आम, लीची और मधुबनी पेटिंग का भी जिक्र किया। पीएम ने कहा, ‘यहां के फल, चाहे वो लीची हो, जर्दालू आम हो, आंवला हो, मखाना हो, या फिर मधुबनी पेंटिंग्स हो,ऐसे अनेक प्रोडक्ट बिहार के जिले-जिले में हैं। हमें इन लोकल प्रोडक्ट्स के लिए और ज्यादा वोकल होना है। हम लोकल के लिए जितना वोकल होंगे, उतना ही बिहार आत्मनिर्भर बनेगा।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *