सुशांत के लिए लगा इमोशनल पोस्टर, आज भी आंखों में आंसू ला देती है इस ऐक्टर की याद

पटना
बिहार ही नहीं बल्कि पूरा देश आज भी अपने बेटे और बॉलीवुड के होनहार एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को याद करके रो पड़ता है। सुशांत का चेहरा लोगों की आंखों के सामने से हटता ही नहीं और इसी की गवाही देता है ये नया पोस्टर जो पटना की सड़क पर लगा है। इस पोस्टर में सुशांत के बचनप की भी एक कहानी छपी है। बिहार के बेटे सुशांत की खुदकुशी ने बॉलीवुड इंडस्ट्री के खौफनाक तस्वीरों को सामने ला दिया है। ये सुशांत के लिए लोगों का प्यार ही था कि महीनों तक सोशल मी़डिया पर सीबीआई जांच के लिए लोगों ने लड़ाई लड़ी। आखिरकार अब सीबीआई जांच हो रही है और बिहार के इस बेटे को न्याय जरूर मिलेगा। इस बीच लोग अपने अपने स्टाइल में सुशांत को लगातार याद कर रहे हैं और इसी संदर्भ में हम आपको इस पोस्टर की खबर बता रहे हैं।

आपको बता दें कि पटना के एग्ज़ीबिशन रोड पर एक बड़ा पोस्टर लगाया गया है। इसमें सुशांत सिंह राजपूत के लिए न्याय की मांग की गई है। इस पोस्टर में सुशांत के लिए एक कविता भी लिखी गई है। पोस्टर में लिखी कविता में कहा गया है:

वो गुलशन है,
दिल में प्यार का शमां बांधे. वो दिलों का तरंग है.
वो गुलशन है,

मन में प्यार का रंग गुलाल हुआ
हर दिल को रंगीन करने वाला वो गुलाल है
वो गुलशन है
यह उस गुलशन की गुलिस्तां की खुशबू है
यह हवा- मौज में जिसके संग है
वो गुलशन है
यह आसमां सिर उठाता है, यह जमीं इतराती है
गुलशन में है डूबी इस फिजा की उमंग है
वो गुलशन है॥

13 पंक्तियों की इस कविता में सुशांत के जीवन का चित्रण किया गया है। दरअसल सुशांत के घर का नाम गुलशन था और पटना के राजीव नगर के ज्यादातर लोग उन्हें इसी नाम से पुकारते थे।

वहीं कविता के बाद पोस्टर में नीचे अंग्रेजी में लिखा है ;

You are not away, you are within us, your presence will always be celebrated Gulshan.

अंत में बड़े अक्षरों में JUSTICE FOR SUSHANT SINGH RAJPUT लिखते हुए न्याय की मांग की गई है ।

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत का शव 14 जून को उनके फ्लैट में बरामद किया गया था। तब मुंबई पुलिस इस केस कि जांच कर रही थी, लेकिन काफी विवादों के बाद इस केस को सीबीआई को सौंप दिया गया है और सीबीआई ही फिलहाल सुशांत सिंह राजपूत के केस की जांच में जुटी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *