अंधेरा होते ही तेजस्वी को मुस्कुराने की एक बड़ी वजह मिली, लालटेन की रोशनी यहां बढ़ी

पटना

बिहार विधानसभा चुनाव में वो कांटे की टक्कर चल रही है कि हाल फिलहाल देखी नहीं गई है। सबकी धुकधुकी बढ़ गई है। फिलहाल स्थिति यह है कि किसी भी गठबंधन को क्लियरकट बहुमत मिलते नहीं दिख रहा है। हालांकि एनडीए को बढ़त जरूर है, फिर भी बहुमत का जादुई आंकड़ा छूना अभी बाकी लग रहा है। इस बीच बिहार से देर शाम एक ऐसी खबर जरूर आई है, जिसने तेजस्वी यादव और राजद को मुस्कुराने का मौका जरूर दे दिया है।

अबतक के रुझानों में राजद नंबर 1

अबतक बिहार में हुई वोटों की गिनती की बात करें तो राजद सिंगल लार्जेस्ट पार्टी यानी सबसे बड़े दल के रूप में उभर कर सामने आई है। चुनाव आयोग के ताजा आंकड़ों के मुताबिक राजद 77 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। इसमें से 10 सीटों पर राजद के कैंडिडेट जीत भी चुके हैं। अगर राजद इस बढ़त को और आगे ले जाने में सफल हुई तो बिहार का रोमांच बढ़ सकता है।

भाजपा नंबर 2 की पार्टी

अबतक के रुझानों के मुताबिक बिहार में भाजपा नंबर 2 पार्टी के रूप में उभरी है। बिहार में 2015 में ये पोजिशन नीतीश कुमार के नेतृत्व में जेडीयू को मिली थी। ताजा रुझानों की बात करें तो भाजपा बिहार में 72 सीटों पर आगे चल रही है। इसमें से 15 सीटों पर वह जीत हासिल कर चुकी है। भाजपा को जीत के लिए अपनी इस पोजिशन को बरकरार रखने की जरूरत है।

नीतीश कुमार की पार्टी तीसरे पोजिशन पर

वैसे तो एनडीए लीड पर है और नीतीश कुमार चौथी बार सीएम बनने के करीब हैं लेकिन उनकी पार्टी कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाई है। ताजा रुझानों के मुताबिक जेडीयू 41 सीटों पर आगे चल रही है। इनमें से 7 सीटों पर वह जीत दर्ज कर चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *