लूट की घटना के बाद बैंक से भागते अपराधियों की तस्वीर सीसीटीवी वीडियो फुटेज से निकाली गई है। साथ में बैंक के अंदर पड़ताल में जुटी पुलिस।

हाजीपुर में दिनदहाड़े एचडीएफसी बैंक से 1.19 करोड़ बोरे में भर कर ले गये लुटेरे

Patna : बिहार में क्राइम पर रोक नहीं लग रही। न अपराधियों में पुलिस का भय है और न ही पुलिस पर कोई खास असर है अपराध के बढ़ जाने का। हर जगह हालात एक जैसे हैं। हाजीपुर में एचडीएफसी बैंक में घुसकर बेखौफ अपराधियों ने 1 करोड़ 19 लाख रुपये लूट लिये। बैंक खुलते ही पांच लुटेरे बैंक में घुस गये और कर्मचारियों को बंधक बना लिया। इसके बाद बैंक में रखी सारी रकम लूट ली। यह पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई है। बेखौफ डकैतों ने बैंक का सारा पैसा बोरे में भर लिया और उसके बाद चुपचाप वहां से फरार हो गये। वैसे जाते जाते बेखौफ डकैतों ने यह भी साबित कर दिया कि वे चिरकुट भी हैं। एक करोड़ से ज्यादा रकम बोरे में भर लेने के बाद अपराधियों ने बैंक में मौजूद ग्राहक और स्टाफ से भी पैसे छीन लिये। ग्राहक और स्टाफों से कुल 44 हजार रुपये लूट लिये।

सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है कि बैंक के बाहर कोई भीड़ नहीं है। बैंक से पहले एक अपराधी निकलता है, जिसके पास कुछ नहीं है। फिर दूसरा, तीसरा और चौथा अपराधी निकलता है इनमें से एक के पास आधा भरा हुआ बोरा नजर आ रहा है तो एक के पास कंधे पर टंगा हुआ बैग है। सबसे बाद में पांचवां निकलता है, जिसके पास भी कुछ नहीं है। हालांकि पुलिस कह रहे हैं कि अपराधी बाइस आये थे लेकिन सीसीटीवी में बाइक नहीं दिख रहा। सभी पैदल ही फरार हो गये। इसके बाद वे बाइक से भागे या कार से इसका पता किया जा रहा है।
रोज लूट और आपराधिक वारदात की खबरें बिहार से आ रही हैं। वारदात बढ़ रहे हैं। लेकिन पुलिस का एक ही जवाब होता है। अभी जांच चल रही है। बैंक डकैती के मामले में भी यही हाल है। आईजी, एसपी से लेकर सारे अफसर मौके पर पहुंचे हैं और छानबीन कर रहे हैं। ऐसे में बड़ा सवाल तो यह है कि पुलिस का खौफ कहां है? अपराधी बेखौफ क्यों हैं? और सबसे बड़ा सवाल, जो आज भी कायम है- सरकार का इकबाल कहा है?

हैरत की बात यह है कि एचडीएफसी की इस ब्रांच के नजदीक ही केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय का निजी आवास भी है। यह वारदात हाजीपुर नगर थाना क्षेत्र के कर्णपुरा स्थित एचडीएफसी बैंक में हुई है। वारदात के बाद जिले के बॉर्डर को भी सील कर दिया गया है। वैशाली के पुलिस अधीक्षक मनीष ने कहा कि लुटेरों की गिरफ्तारी के लिये सभी जिले के बॉर्डर को सील कर दिया गया है और पुलिस छापेमारी में जुट गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *