Image Source : Agencies

उपचुनाव को ले आस्तीनें तनीं, गठबंधन में दावे-प्रतिदावे, राजद दोनों सीटों पर प्रत्याशी उतारने की तैयारी में

Patna : बिहार विधानसभा की दो सीटों तारापुर और कुशेश्वरस्थान के उपचुनाव की घोषणा होते ही विपक्षी गठबंधन में दावे प्रतिदावे को लेकर रस्साकशी शुरू हो गई है। महागठबंधन के मुख्य घटक राष्ट्रीय जनता दल ने दोनों सीटों पर दावा किया है, जबकि आम चुनाव में गठबंधन में कुशेश्वरस्थान सीट कांग्रेस के खाते में गई थी। दूसरी तरफ जनता दल यूनाइटेड का दावा है कि हम विधानसभा उपचुनाव की दोनों सीटों पर जीत हासिल करेंगे। पार्टी जल्द ही दोनों सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा करेगी। दोनों सीटें जदयू की हैं। अशोक कुमार को मामूली अंतर से हार का सामना करना पड़ा, इस संदर्भ में कांग्रेस भी अपना दावा कर रही है। हालांकि, राजद के खुले दावे के बाद कांग्रेस असमंजस में है। तारापुर से मेवालालाल चौधरी और कुशेश्वरस्थान से शशिभूषण हजारी विजयी रहे थे।

दोनों सीटों पर जदयू का सीधा मुकाबला राजद और कांग्रेस से था। तेजस्वी पिछले हफ्ते एक कार्यक्रम में कुशेश्वरस्थान गये थे। तेजस्वी ने दोनों सीटों पर राजद के दावे की घोषणा मंच से कर दी। राजद प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने कहा कि पार्टी उपचुनाव में दोनों सीटों पर चुनाव लड़ेगी। इसके लिये तैयारी शुरू कर दी गई है। वहीं, कांग्रेस मीडिया प्रभाग के अध्यक्ष राजेश राठौड़ ने कहा कि पिछली बार पार्टी के वरिष्ठ नेता अशोक राम ने कुशेश्वरस्थान से चुनाव लड़ा था। हम छोटे अंतर से हारे, इसलिये हमारा दावा मजबूत है।
कांग्रेस-राजद नेताओं के बयान से साफ है कि दोनों पार्टियां उपचुनाव में दोनों सीटों पर आमने-सामने हैं। यह रस्साकशी क्या रूप लेगा यह तो आने वाला समय ही बतायेगा। तारापुर में पिछले चुनाव में जदयू के मेवालालाल चौधरी को 64468 वोट मिले थे, जबकि उनकी प्रतिद्वंद्वी दिव्य प्रकाश को 57243 वोट मिले थे। लोजपा की मीना देवी को भी 11 हजार वोट मिले थे। मेवालाल ने 2015 का चुनाव भी जीता था। वैसे इस बार भी चिराग पासवान दोनों जगहों से मजबूत प्रत्याशी उतारने के मूड में हैं। और चिराग पासवान के साथ लोगों की भीड़ जिस तरह से दिख रही है वो जदयू के लिये चिंता का विषय हो सकती है।
जदयू प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने दावा किया है कि हम विधानसभा उपचुनाव की दोनों सीटों पर जीत हासिल करेंगे। पार्टी जल्द ही दोनों सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा करेगी। दोनों सीटें जदयू की हैं। जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने विपक्ष पर हमला बोलते हुये कहा कि विपक्ष मुद्दाविहीन हो गया है। लोग 15 साल पहले ही राजद को नकार चुके हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को पहले अपने माता-पिता के शासन का आकलन करना चाहिये कि उस समय बिहार में क्या स्थिति थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *