समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ सांसद शफीकुर रहमान बर्क। Image Source : tweeted by @Drbarq

तालिबान ने रूस-अमेरिका जैसे मजबूत देशों को भी अपने देश में बसने नहीं दिया : सपा सांसद

New Delhi : अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे से पूरी दुनिया चिंतित है और सभी देश अपने नागरिकों को वहां से निकालने में लगे हैं। तालिबान द्वारा चुनी हुई सरकार को उखाड़ फेंकने के साथ, हर कोई अफगानिस्तान की स्थिति पर नजर रख रहा है और लोगों को डर है कि विद्रोही समूह की क्रूरता वहां फिर से शुरू हो सकती है। हालाँकि, भारत में समाजवादी पार्टी के एक सांसद ने तालिबान की प्रशंसा की है। उत्तर प्रदेश के संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर रहमान बर्क ने अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे को लेकर चौंकाने वाला बयान दिया है। सपा सांसद ने कहा कि तालिबान एक ऐसी ताकत है जिसने रूस और अमेरिका जैसे मजबूत देशों को भी अपने देश में बसने नहीं दिया। अपने विवादित बयानों की वजह से चर्चा में रहने वाले शफीकुर रहमान इस बयान के बाद एक बार फिर चर्चा में आ गये हैं।

उनका यह बयान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बयान और सोच के बेहद करीब है। इमरान ने आज आधिकारिक तौर कहा कि अफगानिस्तान ने गुलामी की बेड़ियों को तोड़ डाला है। इधर तालिबान का गुणगान करते हुये बर्क ने कहा कि अब तालिबान अपने देश को आजाद कर उसे चलाना चाहता है, यह तालिबान का आंतरिक मामला है। इसके अलावा सपा सांसद ने भाजपा की जन आशीर्वाद यात्रा पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि जब भाजपा ने देश की जनता के हित के लिये कोई काम नहीं किया है तो जन आशीर्वाद यात्रा निकालने का क्या मतलब है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में आम आदमी से लेकर किसान तक सभी परेशान हैं। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी की भी राज्य में सरकार थी, लेकिन हमने लोगों को कभी परेशान नहीं किया।
यह पहली बार नहीं है जब सांसद ने विवादित बयान दिया हो। इससे पहले उन्होंने भाजपा सरकार को मुस्लिम विरोधी बताया था। उन्होंने कहा था- भाजपा ने न सिर्फ शरीयत से छेड़छाड़ की बल्कि लड़कियों को पकड़कर बलात्कार भी कराया। मॉब लिंचिंग जैसी गलतियां मुसलमानों के साथ की गईं। सरकार अब कोरोना के रूप में इसका खामियाजा भुगत रही है।
इतना ही नहीं, सांसद ने तो बहुत पहले ही कोरोनावायरस का इलाज खोज भी लिया था। उन्होंने बयान दिया था कि नमाज पढ़ने और अपनी गलतियों के लिये माफी मांगने से ही कोरोना बीमारी को खत्म किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *