पटना में राजद के केंद्रीय कार्यालय के समक्ष लगा बैनर, जिसमें तेज प्रताप की तस्वीर नहीं है। Image Source : Vishal Kumar, Live Bihar

राजद के 25वें स्थापना दिवस बैनर से तेज प्रताप गायब, तेजस्वी सबसे बड़े, छोटे हो गये लालू-राबड़ी

Patna : राष्ट्रीय जनता दल का स्थापना दिवस कार्यक्रम बड़े धूमधाम से मनाने की तैयारी चल रही है। राजद कार्यालय को दुल्हन की तरह सजाया गया। इस मौके पर पार्टी नेताओं की ओर से पटना में केंद्रीय कार्यालय और अलग-अलग इलाकों में बड़े-बड़े बैनर लगाये गये हैं। लेकिन हैरत की बात यह है कि इन बैनर पोस्टरों से लालू के बड़े लाल तेज प्रताप की तस्वीरें गायब हो गई हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की बड़ी तस्वीरें लगाई गई हैं। पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और राजद सुप्रीमो की तस्वीरें भी छोटी हो गई हैं, लेकिन लगी तो सब जगह हैं। पर पोस्टर से तेज प्रताप की तस्वीरों का गायब हो जाना काफी अखर रहा है। ऐसा लग रहा है कि पार्टी में तेज प्रताप अलग पड़ते जा रहे हैं और उन्हें पारिवारिक सपोर्ट भी बेहद कम मिल रहा है। पार्टी के नेताओं का सपोर्ट तो पहले भी उनको कम ही है, खासकर उनकी बोलचाल और व्यवहार की वजह से।

पटना में राजद के केंद्रीय कार्यालय के समक्ष लगा बैनर, जिसमें तेज प्रताप की तस्वीर नहीं है। Image Source : Vishal Kumar, Live Bihar

 

बहरहाल 25वें स्थापना दिवस को लेकर पार्टी कार्यालय को बेहद खूबसूरत ढंग से सजाया गया है। कार्यालय में एक दर्जन सोलर लालटेन लगाये गये हैं। पार्टी के थीम कलर ग्रीन से पूरी लाइटिंग की गई है जो बेहद खूबसूरत लग रहे हैं। स्थापना दिवस को बेहतरीन ढंग से मनाने के लिये सभी जिलों में तैयारी की जा रही है। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद इस मौके पर कार्यकर्ताओं से वर्चुअल मिलेंगे और अपनी बात रखेंगे। इधर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुये कहा है कि यह सरकार पूरी तरह से भ्रष्टाचार में लिप्त हो गई है।
तेजस्वी ने एक न्यूज चैनल के प्रोग्राम को टैग करते हुये ट‍्वीट किया है- बिहार में भ्रष्टाचार रूपी गंगा ने तबाही मचाई हुई है। खुद मंत्री और सत्ताधारी MLA खुलेआम स्वीकार कर रहे है कि बिना रिश्वत दिए कोई बाबू साहेब व अधिकारी काम नहीं करता। बिहार में सरकार है ही नहीं। भ्रष्टाचारी, कुर्सीलोलुप, सिद्धांतहीन और अराजक तत्व राज्य को चला रहे है।

 

दूसरी तरफ लालू प्रसाद ने भी इसी मसले पर नीतीश सरकार को आड़े हाथों लेते हुये ट‍्वीट किया- गिरते-पड़ते, रेंगते-लेटते, धन बल-प्रशासनिक छल के बलबूते जैसे-तैसे थर्ड डिविज़न प्राप्त 40 सीट वाला जब नैतिकता, लोक मर्यादा और जनादेश को ताक पर रखकर मुख्यमंत्री बनता है तब ऐसा होना स्वाभाविक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *