बिहार में शुरू हुआ 266 करोड़ की लागत से बना ये पुल, देखिए जीवन कैसे हुआ आसान

बिहार की जनता के लिए अच्छी खबर है। 266 करोड़ की लागत से एनएच 30 के कोईलवर में सोन नदी पर बन रहे पुल को गुरुवार से चालू कर दिया गया है। इसका उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया है। हालांकि 6 लेन के बन रहे कोईलवर पुल की केवल 3 लेन को ही आवाजाही के लिए खोला गया है। जानकारी के अनुसार बाकी के तीन लेन को भी आने वाले 6 महीनों में शुरू कर दिया जाएगा।

2 करोड़ लोगों को मिलेगा फायदा

कोईलवर पुल के चालू हो जाने से पटना से आरा, बक्सर और छपरा आना-जाना आसान हो जाएगा। इस पुल के शुरू होने से अब लोगों को जाम की समस्या से भी निदान मिल सकेगा। कोईलवर के पुराने अब्दुल बारी पुल पर हमेशा जाम रहने के कारण लोगों को खासा परेशानी उठानी पड़ती थी। वहीं पटना से बिहटा के रास्ते भोजपुर और सारण जाने को वालों को भी इसका फायदा मिलेगा। इस पुल के शुरू हो जाने से स्थानीय लोगों के साथ ही आसपास के क्षेत्रों के लोगों को भी इस रास्ते आवाजाही करना आसान होगा। करीब 2 करोड़ बिहार वासियों को इस पुल का फायदा मिलेगा।

महान गणितज्ञ के नाम पर होगा पुल

डेढ़ किलोमीटर लंबे और 266 करोड़ की लागत से एनएच 30 के कोईलवर में सोन नदी पर बने अपस्ट्रीम पुल का अभी नामकरण नहीं किया गया है। लेकिन उद्घाटन समारोह में केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कोइलवर पुल का नाम भोजपुर के महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह के नाम पर रखने का सोचा जा रहा है। हालांकि उन्होनें लोगों द्वारा नाम के लिए प्रस्ताव की मांग भी की है। कहा कि अगर आरा के लोग अगर प्रस्ताव भेजते हैं तो इस पुल का नाम वशिष्ठ नारायण सिंह के नाम पर रख दिया जाएगा।

बिहार से जुड़ेगा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे

Purvanchal Expressway To Get Operational By 2020

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा वर्षों से की जा रही मांग को भी केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पूरा करते हुए लखनऊ से गाजीपुर तक बन रहे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे को बक्सर (बिहार) तक बढ़ाने का ऐलान कर दिया है। बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे को बिहार से जोड़ने की मांग पीएम नरेंद्र मोदी से भी की थी। मालूम हो कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के बक्सर से जुड़ जाने से पटना से दिल्ली तक का सफर खास आसान हो जाएगा। मौजूदा समय में बिहार के लोग मुजफ्फरपुर – गोरखपुर मार्ग से लखनऊ पहुंचते हैं और वहाँ लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे से दिल्ली पहुंचते हैं। 6 लेन के पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लखनऊ से बक्सर तक बन जाने के बाद बिहार वासियों के लिए दिल्ली पहुँचने एक लिए एक सुगम और छोटा रास्ता उपलब्ध होगा। इससे बिहार से दिल्ली आना जाना काफी हद तक आसान हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *