Image Source : Live Bihar/ Fie photo

दो स्टूडेंट‍्स पोशाक का पैसा चेक करने पर हैरान रह गये- उनके बैंक अकाउंट में 900 करोड़ जमा हैं

Patna : बैंक की गड़गड़ियों की वजह से बिहार के कुछ लोगों के भाग्य जग गये हैं। अभी खगड़िया में एक व्यक्ति के खाते में ग्रामीण बैंक कर्मी की गड़बड़ी से 5.50 लाख रुपये आ गये थे और उस व्यक्ति ने बैंक को पैसा वापस करने से भी मना कर दिया। यह कहते हुये कि पैसा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उसके खाते में भेजा है। अब दो युवकों के खाते में 900 करोड़ की धनराशि आ गई है। इन युवकों का अकाउंट कटिहार के उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक भेलागंज शाखा में है। बैंक को अभी तक समझ में नहीं आया है कि पैसा कैसे और कहां से आया है। अलबत्ता बैंक मैनेजर ने एक अच्छा काम यह किया है कि इन दोनों अकाउंट को फिलहाल फ्रीज कर दिया है लेकिन अकाउंट में पैसा आने की खबर से कटिहार जिले में खलबली सी मच गई है। सभी अपना अपना अकाउंट अपडेट कराने और अकाउंट चेक करने में लगे हैं। कोई एटीएम से अपडेट ले रहा है तो कोई बैंक की कतारों में खड़ा हो रहा है।
खबर है कि कटिहार में दो बैंक खातों में 900 करोड़ से अधिक की राशि आ गई है। खाते में इतनी बड़ी रकम आने से बैंक अधिकारी भी हैरान हैं। जैसे ही उन्हें दोनों खातों में इस राशि के बारे में पता चला, अन्य लोगों ने भी उनके खातों की जांच शुरू कर दी। अपना खाता चेक करने पहुंचे लोगों के कारण सीएसपी केंद्र पर कतार लग गई।
बिहार में स्कूली बच्चों के कपड़ों की राशि बैंक खाते में ही आती है। बुधवार को आजमनगर थाना क्षेत्र के बघौरा पंचायत स्थित पस्तिया गांव के दो बच्चे गुरुचंद्र विश्वास व असित कुमार पोशाक की राशि की जानकारी लेने एसबीआई के सीएसपी केंद्र पहुंचे। यहां उन्हें पता चला कि उनके खातों में करोड़ों रुपये जमा हैं। यह सुनकर न केवल बच्चे बल्कि आसपास खड़े अन्य लोग भी दंग रह गये।
खाता उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक भेलागंज शाखा का है। सीएसपी ने खुलासा किया कि छात्र गुरुचंद्र विश्वास के खाता संख्या 1008151030208081 में 60 करोड़ से अधिक और असित कुमार के खाता संख्या 1008151030208001 में 900 करोड़ से अधिक राशि जमा हैं।
जब शाखा प्रबंधक मनोज गुप्ता को भी इस बात का पता चला तो वह हैरान रह गए। उन्होंने दोनों बच्चों के खाते से भुगतान रोकते हुये कहा कि मामले की जांच की जा रही है। इस बात की जानकारी बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों को भी दी जा रही है। वहीं एलडीएम एमके मधुकर ने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में नहीं है। बैंक से मामला मिलने के बाद इसकी जांच की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *