बेमिसाल : शौर्यचक्र शहीद विभूति की पत्नी निकिता का राष्ट्र सेवा का सपना पूरा- सेना में लेफ्टिनेंट बनीं

New Delhi : मेजर की शहादत की खबर आ गई। पर उनकी पत्नी न ख़ुद रोईं और न परिजनों को रोने दिया। शहीद पति को अंतिमविदाई देते वक्त उन्होंने जो हिम्मत दिखाई उनके हौसले को बयां करती है। वह ताबूत के पास खड़ी रहीं और पति का चेहरा हाथों से चूमकर उन्हें I Love You कहा। उन्हें सैल्यूट किया। अब वह पति के ही नक्शे कदम पर चल पड़ी हैं। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की पत्नी निकिता ढौंडियाल का सपना आखिरकार पूरा हो ही गया। ओटीए, चेन्नई में कड़ी ट्रेनिंग के बाद वह इंडियन आर्मी में लेफ्टिनेंट बन गई हैं। शनिवार को ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी में आयोजित पासिंग आउट परेड के बाद लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी ने उनके कंधे पर सितारे लगाकर उनको बधाई दी। लेफ्टिनेंट निकिता ने पिछले साल इलाहाबाद में वूमेन एंट्री स्कीम की परीक्षा पास की थी।

शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल देहरादून के नेशविला रोड (डंगवाल मार्ग) के रहने वाले थे। वह 18 फरवरी 2019 को शहीद हो गये थे।  34 वर्षीय मेजर विभूति ढौंडियाल सेना के 55 आरआर (राष्ट्रीय राइफल) में तैनात थे। वह तीन बहनों के इकलौते भाई थे। वर्ष 2018 अप्रैल माह में उनकी शादी हुई थी। शादी को एक साल भी नहीं हुआ था, जब उनकी शहादत की खबर आ गई। पर उनकी पत्नी निकिता ने न केवल खुद को, बल्कि परिवार को भी संभाला। शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल के अदम्य साहस को देखते हुए उन्हें मरणोपरांत शौर्य चक्र से अलंकृत किया गया था। उन्होंने न केवल कई सैन्य ऑपरेशन में हिस्सा लिया, बल्कि कई में अग्रणी भूमिका में भी रहे।
कोरोना के हालात सामान्य होने पर निकिता उत्तराखंड की राजधानी देहरादून आएंगी। निकिता कौल ने शॉर्ट सर्विस कमीशन की परीक्षा पास की थी। इस उपलब्धि के बारे में बात करते हुए निकिता बोलीं थीं- मैंने विभू के शहीद होने के 6 महीने बाद SSC की परीक्षा के लिए आवेदन किया। ये मेरा तरीका था ठीक होने का। जब मैंने वही एग्जाम दिया, वही इंटरव्यू दिया तो मुझे महसूस हुआ कि वो ऐसा ही महसूस कर रहे होंगे। मैं उनके और करीब आ गई। उनके डर और असहजता मुझे भी महसूस हुई और किसी तरह से ये मेरी हिम्मत बने।
निकिता कश्मीरी परिवार से ताल्लुक रखती हैं और वो अपने पति की हिम्मत से बहुत प्रेरित हैं। उन्होंने कहा – उन्हें जब भी डर लगता था वो अपने पति के बारे में सोचती थीं। उनके पति चाहते थे कि निकिता उनसे भी आगे बढ़ें और अब निकिता अपने पति का यही सपना पूरा करने जा रही हैं। (with input from live bavaal and her zindagi)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *