तमंचे पर डिस्को : लॉकडाउन में जगह-जगह बार बालाओं का जलवा, बालू माफिया का तांडव पुलिस के सीने पर

New Delhi : बिहार में कोरोना वायरस की दूसरी लगह घटने का नाम नहीं ले रही है। प्रदेश में संपूर्ण लॉकडाउन लगा हुआ है। काफी समय से कोरोना प्रोटोकॉल में आदमी जी रहे हैं लेकिन यहां के लोगों के कान पर जू नहीं रेंग रहा है। पुलिस और प्रशासन भी ऐसे मामलों में चुप्पी साध लेता है। फिलहाल एक ताजा मामला आरा के सहार प्रखंड का है जहां नाच-गाने का वीडियो वायरल हो गया है। खास बात यह कि इसमें एक नाचनेवाली लड़की अपने दोनों हाथ में पिस्टल लेकर नाच रही है। उसके साथ एक लड़का सेल्फी ले रहा है, शायद यह जताने के लिये कि दोनों पिस्टल उसके ही हैं। यहां रातभर नाच गाना चलता रहा लेकिन प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंगा। इन महफिलों की शान बन रही हैं, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल से पहुंची बार बालाएं।


बिहार में कानून व्यवस्था और प्रशासनिक निकम्मेपन के हालात इतने बुरे हो गये हैं कि जबरदस्त लॉकडाउन में सारे बिजनेस, दुकानों पर ताले लटक रहे हैं। लेकिन बालू माफिया अपनी माफियागिरी से नीतीश कुमार सरकार को चुनौती दे रहे हैं। अफसरों से सीनाजोरी कर बालू उड़ा रहे हैं, उसकी जबरन जमाखोरी, चोरी कर रहे हैं। टैक्स भी नहीं दे रहे। और जब सरकार दबिश बनाने पहुंचती है तो अफसरों, पुलिस पर ही धावा बोल देते हैं। पिछले तीन दिनों में पटना, रोहतास में इस तरह के तीन अलग-अलग मामले सामने आ चुके हैं।
बता दें कि बिहार में 25 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन है। नियम ऐसे हैं कि पैदल आवाजाही पर भी रोकथाम है मगर बार बालाओं के नाच और बालू माफियाओं पर अंकश नहीं लग पा रहा है। फिलहाल सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म फेसबुक पर भोजपुर जिले का नाच गाने का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में कई लड़कियां मंच पर खड़ा होकर भोजपुरी और हिंदी गानों पर भोंडा डांस कर रही हैं। पुष्टि हुई है कि यह वीडियो भोजपुर जिले के सहार प्रखंड का है। इसके आयोजन में भी बालू माफियाओं की बहुतायत है। इस वीडियो में नाचनेवाली एक लड़की दोनों हाथ में पिस्टल लेकर डांस कर रही है और सेल्फी निकलवा रही है। एक और वीडियो चरपोखरी थाना क्षेत्र के मराही टोला का है, जहां बुधवार की रात एक शादी समारोह में जबरदस्त नाच हुआ।
इन आयोजनों में सोशल डिस्टेन्सिंग की बात तो भूल ही जाइये कोई मास्क तक पहनने की जहमत नहीं उठा रहा। अफसर डरे हुये हैं। पुलिस डरी हुई है। तो फिर बिहार में क्या हो रहा होगा जमीन पर इसका अंदाज लगाना मुश्किल नहीं है। एक दिन पहले ही नवादा के वारिसलीगंज में बेखौफ बालू माफियाओं ने लाठी-डंडा, ईंट-पत्थर व हथियारों से लैस होकर पुलिस व खनन टीम पर हमला कर दिया। मंगलवार की रात रमलबीघा बालू साइट पर बालू माफियों के विरुद्ध छापेमारी करने गई पुलिस पर हुए पथराव जिला प्रशासन के समक्ष कई सवाल खड़ा कर दिया है। 16 मई को जमुई के लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र के आड़बड़िया में खनन विभाग के निर्देश पर छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर ईंट- पत्थर से माफिया ने हमला कर दिया। पुलिस कर्मियों को जान बचाकर भागना पड़ा। ऐसे दर्जनों मामले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *